स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

गरीबों को नहीं मिल रहा शासन की योजनाओं का लाभ

Mahendra Kumar Rajore

Publish: Aug 10, 2019 11:00 AM | Updated: Aug 09, 2019 23:17 PM

Bhind

बीपीएल कार्ड और मुफ्त आवास योजनाओं से वंचित हैं गांव के कई गरीब परिवार

अमायन. ग्राम पंचायत गहेली के मजरा दयालसिंह के पुरा में शासन की किसी कल्याणकारी योजना का लाभ नहीं मिल रहा है। गांव के कई गरीब परिवार बीपीएल कार्ड और आवास योजना के लाभ से वंचित हैं। सरपंच व ग्राम पंचायत सचिव से लेकर सीएम हेल्पलाइन तक ग्रामीण इसकी शिकायत कर चुके हैं, लेकिन गरीबों की सुनवाई नहीं हो रही है।
गहेली ग्राम पंचायत मेहगांव विकासखंड की सबसे बड़ी पंचायत है। पंचायत के मजरा दयालसिंह के पुरा के निवासी कई गरीब परिवार कच्चे मकानों में मुश्किल के साथ जीवन यापन कर रहे हैं। ये गरीब परिवार कई साल से पंचायत से इंदिरा व सीएम आवास की मांग करते आ रहे हैं पर पंचायत इस पर ध्यान नहीं दे रही। बरसात के मौसम में गरीबों को मिट्टी के कच्चे मकानों में ही रहना पड़ता है। अतिवृष्टि से कई कच्चे मकान ढह चुके हैं। गुरुवार को गांव में हुई बारिश से 14 परिवारों के कच्चे घर गिरने से तकरीबन दो दर्जन लोग बेघर हो गए। गांव के नरेश पिता ओछेलाल बाथम, भगवान सिंह पिता कल्यान सिंह, छल्ले शाक्य पिता विंडोले शाक्य, शंकर बाथम पिता छल्ले बाथम, जनक सिंह पिता कंजन, बालाराम बाथम पिता छोटेलाल बाथम, श्रीकृष्ण बाथम पिता छोटाई बाथम, सोनीबारी गहलोत पिता प्रकाश, रामसिया पिता छोटाई, गुटाली पिता रामबाबू, सुरेश सिंह पिता छोटाई, होतम राठौर पिता आदराम राठौर आदि ने सरपंच व सचिव, जनपद पंचायत, जिला पंचायत तथा सीएम हेल्पलाइन तक को पीएम आवास दिलाए जाने की शिकायत की है।
तीन साल से मांग कर रहे आवास की
उक्त ग्रामीणों ने बताया कि उनके पास पिछले 3 साल से बीपीएल कार्ड हैं। वे लगातार पीएम आवास की मांग कर रहे हैं, इसके लिए ग्राम पंचायत को आवेदन भी कर चुके हैं। ग्राम पंचायत की अनसुनी के कारण अभी तक उन्हें पर्ची तक प्राप्त नहीं हुई है। सभी के कच्चे मकान हैं। बारिश में कच्चे मकानों में आए दिन जहरीले जीव जंतु व सांप निकलते रहते हैं, जिससे घरों में रहने वाले लोगों को हमेशा जान का डर बना रहता है।
कथन
सभी की आवास योजना की लिस्ट मेहगांव भेज दी गई है! आवास योजना का बजट आते ही लोगों को इसका लाभ दिलाया जाएगा। आवास योजना में एक साल में 6 लोगों का ही बजट आता है। पंचायत में ऐसे 250 लोग हैं जो आवास की पात्रता रखते हैं।
आशीष शर्मा, सचिव ग्राम पंचायत गहेली
हितग्राहियों की पर्ची भोपाल से ही नहीं आई हैं। यह स्थिति पूरी पंचायत के 250 लोगों की है। भोपाल से यदि पर्ची आती हैं तो तुरंत दी जाएंगी।
दीनानाथ, सरपंच ग्राम पंचायत गहेली