स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

घर के सामने बने मंदिर पूजा कर सभी को दिया प्रसाद, थोड़ी देर बाद जो जहां था वहीं गया सो

Muneshwar Kumar

Publish: Aug 13, 2019 16:46 PM | Updated: Aug 13, 2019 16:46 PM

Bhind

Robbery in a house: अटेर में मंदिर का पता पूछ परिवार वालों के पास आए लुटेरे, पूजा के बाद खिलाया प्रसाद और रात को गायब कर दिया घर से माल

कदौरा (अटेर). पुलिस थाना अटेर ( ater police ) के अंतर्गत क्वांरी नदी के किनारे बसे खड़ीत गांव में रविवार-सोमवार की दरमियानी रात को प्रसाद ( feeding prasad ) में बेहोशी की दवा मिलाकर दो युवकों ने एक घर से लाखों का माल ( Robbery in a house ) समेट लिया। जिसमें 366 बोर की बंदूक और कारतूस सहित सोने चांदी के आभूषण शामिल हैं। दोनों युवक घर के मालिक के पास मंदिर का पता पूछते हुए पहुंचे थे। पूजा करने के बाद सभी को प्रसाद खिलाया और फिर वारदात को अंजाम दिया।

 

घटना की जानकारी पर अटेर एसडीओपी आरपी मिश्रा ने सोमवार सुबह पुलिस बल के साथ गांव में पहुंचकर घटना स्थल का मौका मुआयना किया एवं मातहतों को वारदात को शीघ्र ट्रेस करने के संबंध में दिशा निर्देश दिए। पीड़ित रामलक्षिन कटारे के पुत्र शत्रुघन कटारे ने बताया कि रविवार रात करीब 8 बजे दो युवक बाइक से काली माता मंदिर का पता पूछते हुए आए। काली माता का मंदिर रामलक्षिन कटारे के घर के बाहर ही बना है।

 

हाथ में लिए हुए थे दो डिब्बे
मंदिर में पूजा करने आए दोनों युवक अपने साथ दो डिब्बे लिए हुए थे, जिसमें से एक में बर्फी थी और दूसरे डिब्बे में बूंदी के लड्डू थे। दोनों युवकों ने पहले बाहर से मंदिर में काली माता को प्रसाद चढ़ाया फिर उस प्रसाद को वहां मौजूद लोगों को बांटा। वहां मौजूद रामलक्षिन कटारे और उनके घर के अन्य सदस्यों के लिए भी दे दिया, जिसे घर पर मौजूद सभी लोगों ने खा लिया।

Robbery in a house

 

होने लगे बेहोश
प्रसाद खाने बाद परिवार के सभी लोग धीरे-धीरे बेहोश हो कर सो गए। जिसके बाद आरोपियों ने अपना काम आसानी से किया। बताया जा रहा है कि चोरी की वारदात को अंजाम देने से पहले आरोपियों ने दो घंटे तक गांव में रेकी की थी।

इसे भी पढ़ें: 51 लाख रुपये जमा कर लंदन से ग्रेजुएशन करने गई लड़की, एडमिशन के बाद हुआ 'झोल' तो लौट के आना पड़ा MP

 

मंदिर के रास्ते घर में किया प्रवेश
प्रसाद खाकर बेहोश हुए कटारे परिवार के सदस्यों के सो जाने के बाद चोरों ने काली माता मंदिर से घर में चढकऱ सबसे पहले बरामदे में सो रहे मुखिया रामलक्षिन कटारे के कुर्ते की जेब से कमरे की चाबी निकाल कर कमरे में लकड़ी की अलमारी में रखी 366 बोर की इंग्लिश बंदूक, लाइसेंस, करीब 25 राउंड से भरा बिल्डोरिया एवं नकदी पर हाथ साफ किया।

 

फिर दूसरे कमरे के दरवाजे की सांकल को तोड़कर उसमें अलमारी में रखे करीब 30 तोला सोने एवं चांदी के जेबर-करधनी, पाजेब, बिछुआ, लच्छे आदि के साथ ही घर के सदस्यों की आईडी प्रूफ, डॉक्यूमेंट एवं कुछ कपड़े आदि पर हाथ साफ कर दिया। चोरी के लिए घर के नीचे वाले कमरे में रखे सब्बल, कुल्हाड़ी आदि औजारों का इस्तेमाल किया।

इसे भी पढ़ें: 10वीं पास युवक को खुद को बताया जज, रईसी देख जाल में फंसी मेडिकल स्टूडेंट, पुलिस अफसरों से सीखता था...

Robbery in a house

 

यहां भी हो चुकी है वारदात
खड़ीत गांव के हार में विजय कुमार पुत्र रामनिवास शर्मा के यहां भी चोरों ने शुक्रवार रात को वारदात को अंजाम दिया था। जिसमें चोर घर की पीछे की दीवार तोडकऱ कमरे में रखे संदूक, अलमारी एवं सूटकेस से 12 तोला सोने एवं 2500 ग्राम चांदी के जेवरों को ले गए थे।

 

चोरों ने दो घंटे घूमकर गांव का लिया जायजा
प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक चोरी की घटना को अंजाम देने वाले बाइक सवार दोनों युवक काली माता मंदिर पर प्रसाद चढ़ाकर उसे बांटने के बाद गांव में करीब दो घण्टे तक घूमकर जायजा लेते रहे। गांव वालों के पूछने पर दोनों युवकों ने अपने आपको पोरसा का बताया और अटेर में सरकारी काम से आना बताते हुए गांव के प्राचीन काली माता मंदिर पर प्रसाद चढ़ाने की बात कही।

इसे भी पढ़ें: पिकनिक मनाने गए तीन दोस्तों की ये है आखिरी सेल्फी, दो पानी में बहे, ब्लैक शर्ट वाला सादान सिर्फ बचा

 

जल्द पकड़े जाएंगे चोर
एसडीओपी अटेर आरपी मिश्रा ने कहा कि खड़ीत गांव की दोनों चोरियों की पड़ताल पुलिस गंभीरता से कर रही है। आज मैंने स्वयं घटना स्थल पर जा कर मौका मुआयना किया है। चोर शीघ्र ही पुलिस की गिरफ्त में होंगे ।