स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

सराफा कारोबारी को गोली मारकर लूट की घटना के बाद फूप में आक्रोश

Mahendra Kumar Rajore

Publish: Sep 14, 2019 09:30 AM | Updated: Sep 13, 2019 23:25 PM

Bhind

व्यापारियों के साथ कांगे्रस ने किया फूप थाने का घेराव, प्रदर्शन
बिगड़ती कानून व्यवस्था के विरोध में बंद रहे फूप के बाजार, दहशत का माहौल
पुलिस अधीक्षक के नाम एसडीओपी को सौंपा ज्ञापन, सीसीटीवी कैमरे लगाने की मांग

फूप. गुरुवार को सराफा व्यापारी के साथ लूट की घटना के बाद शुक्रवार को व्यापारियों के साथ कांग्रेस ने भी विरोध-प्रदर्शन करते हुए न सिर्फ बाजार बंद कराया, बल्कि थाने के सामने चार घंटे तक धरना देकर प्रदर्शन किया। कांगे्रस की ओर से पुलिस अधीक्षक के नाम ज्ञापन भी सौंपा गया है। लूट को अंजाम देने वाले बदमाशों का अभी तक सुराग नहीं लगा है।
शुक्रवार की सुबह 8 बजे सुरपुरा ब्लॉक कांग्र्रेस अध्यक्ष राजासिंह भदौरिया, नगर परिषद अध्यक्ष संतोष शर्मा, जिला योजना समिति के अध्यक्ष मनीष शर्मा, राजेंद्र चौधरी के नेतृत्व में सभी व्यापारी फूप तिराहे पर एकत्रित हुए और बाजार में घूमकर सभी दुकानें बंद करा दीं। 10 बजे कांग्रेस नेताओं और व्यापारियों का काफिला पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए थाने पर पहुंंच गया। आंदोलनकारी ज्ञापन देने के लिए पुलिस अधीक्षक रूडोल्फ अल्वारेश को मौके पर बुलाने के लिए अड़ गए। टीआई संजय सोनी ने असमर्थता जताई तो एक सैकड़ा से अधिक आंदोलनकारी हाईवे के किनारे थाने के सामने ही धरने पर बैठ गए। विरोध-प्रदर्शन दोपहर दो बजे तक चलता रहा। इस दौरान आंदोलनकारियों ने पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इसके बाद एसपी के निर्देश पर एसडीओपी अटेर आरपी मिश्रा आंदोलनकारियों को समझाने के लिए थाने पहुंंचे। दोनों पक्षों के बीच करीब एक घंटे तक मंत्रणा चलती रही। इसके बाद व्यापारी और कांग्रेस नेता धरना खत्म करने के लिए राजी हो गए। यहां बता दें कि गुरुवार की शाम 6.30 से 7.00 बजे के बीच सराफा कारोबारी सुबोध सोनी दुकान बंद कर घर जा रहे थे तभी भिण्ड की ओर से आए बाइक सवार बदमाशों ने आभूषणों से भरा थैला छीनकर सोनी को गोली मार दी थी। सोनी की हालत नाजुक बनी हुई है।
व्यापारियों ने की बाजार में सीसीटीवी कैमरे लगाने की मांग
पुलिस अधीक्षक के नाम एसडीओपी अटेर को सौंपे गए ज्ञापन में व्यापारियों और कांग्रेस नेताओं ने कस्बे के संवेदनशील इलाके में सीसीटीवी कैमरा लगाने की मांग की। इस पर एसडीओपी ने बताया कि सीसीटीवी कैमरे लगाने में करीब 50 लाख का खर्चा आएगा। शासन से बजट की मांग को लेकर डिमांड भेजी जा रही है। आंदोलनकारियोंं की दूसरी मांग आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार करने की थी। पुलिस की ओर से कहा गया कि आप धरना प्रदर्शन खत्म कर हमें अपराधियों को पकडऩे के लिए व्यूह रचना करने का मौका तो दो।
एसडीओपी के नेतृत्व में पांच सदस्यीय दल का गठन
सराफा व्यापारी को गोली मारकर 10 लाख की लूट को अंजाम देने वाले बदमाशों तक पहुंचने के लिए पुलिस अधीक्षक ने एसडीओपी अटेर आरपी मिश्रा के नेतृत्व मेंं पंाच सदस्यीय दल का गठन कर दिया है। इसमें टीआई फूप संजय सोनी को भी शामिल किया गया है। शुक्रवार को पुलिस ने वारदात स्थल के आसपास लगे प्राइवेट सीसीटीवी कैमरों को खंगालना शुरू कर दिया है। इनमें से कुछ फुटेज को पुलिस ने अपने कब्जे में लिया है। इसमें पीडि़त द्वारा बताए गए हुलिए के कुछ युवा बाइक से भागते हुए दिखाई दे रहे हैं। ये युवा कौन हैं, क्यों भाग रहे हैं इसका पता लगाया जा रहा है। कुछ चश्मदीद दुकानदारों से पता चला है कि आरोपी वारदात को अंजाम देने के बाद सुरपुरा की ओर भागे हैं।
कथन
बदमाशों की धरपकड़ करने के लिए दल का गठन कर दिया गया है। जल्दी ही बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। थाना प्रभारी से प्रस्ताव मांगा गया है। आरोपियों पर इनाम भी घोषित किया जाएगा।
रूडोल्फ अल्वारेश, पुलिस अधीक्षक, भिण्ड
ये घटना पुलिस की उदासीनता का नतीजा है। शाम ढलते ही वारदात हो गई और बदमाश मौके से भागने में भी सफल हो गए। बदमाशों को शीघ्र ही गिरफ्तार किया जाए और शहर में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएं।
संतोष शर्मा, नपं अध्यक्ष फूप