स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

भिंड मे एक साथ 200 रेत के ट्रकों पर लिया एक्शन, कईयों के मालिक का नहीं मिला पता

Gaurav Sen

Publish: Aug 09, 2019 11:52 AM | Updated: Aug 09, 2019 11:52 AM

Bhind

पुल पर टै्रफिक रोक दिए जाने से फंस गए थे वाहन, एप्रोच रोडों से भी निकाल रही पुलिस

भिण्ड. खनिज विभाग ने पुलिस बल के साथ फूप से चंबल पुल तक ओवरलोड रेत से भरे दो सैकड़ा से अधिक ट्रकों की घेराबंदी कर रखी है। देर शाम चालानी कार्रवाई शुरू कर दी गई है। लावारिश अवस्था में खड़े वाहनों के लॉक तोडकऱ थानें में खड़ा किया जा रहा है। देर रात तक कार्रवाई चलने की संभावना है। एक ट्रक पर 30 से 40 हजार का जुर्माना किया जा रहा है। चंबल पुल का मेटेनेंश करने के लिए तीन दिन पहले रोक लगा दी गई थी। इसी दौरान सैकड़ों की संख्या में अवैध रेत का परिवहन करने वाले ट्रक भी फंस गए।

प्रशासन को जानकारी मिली तो कलेक्टर ने तत्काल जिला खनिज अधिकारी आरपी भदकारिया, एसडीएम भिण्ड मो.इकवाल को कार्रवाई के लिए भेजा। इधर कार्रवाई की भनक लगते ही 60-70 ट्रक चालक हाईवे -92 के किनारे अथवा ढाबों पर अपने वाहन खड़े कर भाग गए। इसके अलावा डेढ़ सैकड़ा से अधिक वाहन बड़ेपुरा, रानीपुरा, समन्ना, भदाकुर, सुरपुरा, पाली एप्रोच रोड़ों पर खड़े देखे गए हैं।

यह भी पढ़ें : बच्चे की लाश निकालने पहुंचे थे पुलिस वाले, फिर जो निकला उसे देख दंग रह सभी लोग

शाम तक इंतजार करने के बाद ट्रकों पर कार्रवाई शुरू कर दी गई है।जो ट्रक लावारिश अवस्था में रोड के किनारे खड़े है उनका लॉक तोडकऱ थाने भेजा जा रहा है। एप्रोच रोडों पर खड़े वाहनों को भी हाइवे पर लाया जा रहा है। ट्रक मालिकों को भी सूचना दे दी गई है कि वे ऑनलाइन जुर्माना भरकर अपने वाहन ले जा सकते हैं। असरदार कार्रवाई के लिए फूप पुलिस की मदद हेतु पुलिस लाइन में से भारी संख्या में पुलिस बल भेजा गया है।

Monsoon Gwalior: डॉक्टरों को काटना पड़ा मासूम का पैर,क्योंकि मां ने उठाया था ये बड़ा कदम

जाम ने खोली अवैध उत्खनन-परिवहन की पोल

चंबल पुल का मेंटेनेंश करने के लिए लगाई गई रोक के बाद हाईवे -92 पर लगे जाम ने जिले में हो रहे अवैध उत्खनन और अवैध परिवहन की पोल खोल दी है। रेत और गिट्टी से भरे ढाई से अधिक ट्रक देखे गए थे। इनमे से रॉयल्टी चेक करने के बाद करीब आधा सैकड़ा गिट्टी के ट्रकों को इटावा की ओर रवाना कर दिया गया है। हाइवे के किनारे खड़े दो दर्जन से अधिक ट्रको में चंबल का होने की सूचना है। गुरुवार सुबह 11 बजे से ही पुल के ऊपर से वाहनों का आवागमन शुरू हो गया है। रेत के ट्रक किनारों पर खड़े होने के कारण प्रशासन को रात में फिर से जाम लगने की चिंता सता रही है।यहीं कारण है कि जगह जगह पुलिस को तैनात कर दिया गया है।

mining department of bhind take action on 200 sand truck

हाइवे के किनारे तथा एप्रोच रोडों पर बड़ी संख्या में ट्रक खड़े है। अधिकांश में लॉक लगा है, चालक गायब है। देर शाम चालानी कार्रवाई शुरू कर दी थी। कई ट्रकों को थाने में भेज दिया गया है। कलेक्टर के निर्देश पर कार्रवाई हो रही है। सुबह तक कार्रवाई चलने की संभावना है।
आरपी भदकारिया जिला खनिज अधिकारी भिण्ड

 

mining department of bhind take action on 200 sand truck

हाइवे पर लगी वाहनों की लंबी कतार।

mining department of bhind take action on 200 sand truck

एप्रोच रोडों से ट्रकों का हाइवे पर लाने की कोशिश की जा रही है। ट्रक मालिकों से भी संपर्क किया गया है। हाइवे पर जाम न लगे इसको भी देखा जा रहा है। निबुआ चौकी से चंबल पुल तक पुलिसबल तैनात किया गया है।
संजय सोनी टीआई फूप