स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मंदिर में पौधारोपण करने पर उतारा मौत के घाट, पुलिस से सामने मारी गोली

Gaurav Sen

Publish: Jul 20, 2019 16:41 PM | Updated: Jul 20, 2019 16:41 PM

Bhind

पौधा रोपने हुआ था विवाद एक ही गांव के दोनों पक्ष..........

भिण्ड। पौधा रोपने पर दो परिवारों के बीच हुए विवाद में एक की मौत हो गई। मंदिर प्रांगण में पौधों का लगाए जाना दूसरे परिवार को इतना ना गवरा गुजरा की पौधा लगाने वाले की गोली मार कर हत्या कर दी गई। मृतक के परिवार जनों ने जाम लगा कर हत्यारे को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने की मांग की है। साथ ही पुलिस से सुरक्षा भी मांगी है।

जिले के अटेर तहसील के पावई थाना क्षेत्र के ग्राम राजपुरा में पौधा लगाए जाने पर विवाद हो गया। मामला ये था कि राजपुरा में रहने वाले सीताराम नरवरिया (45) ने गांव में स्थित सीताराम मंदिर के प्रांगण में कुछ पौधे रोपण किए थे। पौधा रोपण शुक्रवार शाम को किया गया था। जिसको लेकर गांव के ही विनोद (35) पुत्र इंद्रजीत नरवरिया (60) ने आपत्ती जताई थी। जिसको लेकर सीताराम और विनोद के परिवार के बीच वाद-विवाद हुआ था। अन्य लोगों की मदद से दोनों परिवारों के बीच का झगड़ा शांत करा दिया गया था। शनिवार सुबह 6.30 बजे विनोद नरवरिया ने मंदिर में जाकर पौधे उखाडऩा शुरू कर दिए। जिसको लेकर सीताराम और विनोद के बीच फिर से झगड़ा होने लगा। सीताराम के बेटे प्रदीप नरवरिया ने डायल 100 को बुला लिया। पुलिस आई तो विनोद वहां से गायब हो गया।

दोनों परिवारों को समझाने की कोशिश की गई लेकिन नतीजा न निकलता देख पुलिस विनोद के पिता इंद्रजीत को गाड़ी में बिठा कर थाने ले जाने लगी। पुलिस की गाड़ी के पीछे देख सीताराम और उसका बेटा प्रदीप भी जान थाने की ओर चल दिए। गांव से थोड़ी ही दूर निकले थे कि पुलिया पर पहले थे हथियार लेके बैठे विनोद, शैलेन्द्र, राजेश, जसवंत ने सीताराम को 12 बोर की बंदूक से गोली मार दी। जिससे सीताराम ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। इसके बाद उसके बेटे प्रदीप पर भी फायर किया। लेकिन वह जान बचाने में कामयाब हो गया। आरोपियों ने पुलिस के सामने ही सीताराम को गोली मार दी और भाग गए। डायल 100 की गाड़ी मौके पर ही मौजूद थी लेकिन वह हत्यारों को पकडऩे में कामयाब नहीं हो सकी।

परिवार ने लगाया जाम
सीताराम की हत्या होने के बाद परिवार के लोगों ने मुख्य मार्ग पर जाम लगा दिया। उन्होनें पुलिस से तत्काल आरोपियों को पकडऩे की बात कही और सीताराम के परिजनों को पुलिस सुरक्षा प्रदान कराने को कहा। सीताराम की हत्या के बाद पूरे क्षेत्र में तनाव का माहौल हो गया है। आरोपी विनोद के पिता इंद्रजीत पुलिस की गिरफ्त में हैं।

man  <a href=murder in bhind for plantation in temple land" src="https://new-img.patrika.com/upload/2019/07/20/6a9d40a3-d75d-418f-8238-f818c0d7563f_4863985-m.jpg">

इस बात का सता रहा है डर
भिण्ड में एक चलन जोरों पर है जिसमें दो पक्षों के बीच यदि विवाद होता है और किसी एक पक्ष के सदस्य की हत्या हो जाती है तो जो दूसरा पक्ष पहले पक्ष पर हत्या का आरोप लगाने के लिए अपने परिवार के किसी बूढ़े सदस्य की खुद ही हत्या कर देते हैं। ऐसे कई केस भिण्ड जिले में देखने में आए हैं। जिससे भयभीत होकर सीताराम के परिवार के लोगों ने पुलिस को कहा कि हमे सुरक्षा प्रदान करें और यदि ऐसा कुछ होता है तो उस की जिम्मेदारी सीताराम के परिवार पर नहीं आए।

man murder in bhind for plantation in temple land

जाम लगाते हुए सीताराम के परिवार वाले