स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

भाजयुमो जिलामंत्री ने एसआई से की मारपीट, सर्विस रिवाल्वर छीनी

Rajeev Goswami

Publish: Sep 13, 2019 09:19 AM | Updated: Sep 12, 2019 23:48 PM

Bhind

उप निरीक्षक से बोले भाजयुमो जिलामंत्री जानते नहीं मैं कौन हूं और धक्का देकर बढ़ा दी गाड़ी बचाव में पुलिस ने किए दो फायर और वापिस ले ली पिस्टल

फूप. गणेश विसर्जन के दौरान गाड़ी नदी तक ले जाने से रोकने पर भाजयुमो जिलामंत्री ने अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर उप निरीक्षक से मारपीट कर उन्हें घायल कर दिया। साथ ही उनकी सर्विस पिस्टल भी छीन ली। बचाव में पुलिस ने दो हवाई फायर कर मुख्य आरोपी को पकडक़र पिस्टल वापस ली। वारदात जिले के फूप थाना क्षेत्र के क्वारी नदी पर हुई। पुलिस ने भाजयुमो जिलामंत्री सहित पांच नामजद व चार अज्ञात पर केस दर्ज किया है।

पुलिस के अनुसार गणेश विसर्जन के दौरान क्वारी नदी पर सुरक्षा व्यवस्था के तहत बेरीकेड्स लगाकर पुलिस बल तैनात किया था। साथ ही गणेश प्रतिमा लेकर आने वाले वाहनों को रोड किनारे ही रखे जाने तथा वहां से प्रतिमा के साथ पैदल जाने की व्यवस्था की गई थी। इसी बीच गणेश प्रतिमा विसर्जन के लिए भाजयुमो के जिलामंत्री रक्षपाल सिंह अपने साथियों के साथ वाहन सहित क्वारी नदी के विसर्जन स्थल पर पहुंचे। जहां तैनात उप निरीक्षक दीपेंद्र चौधरी ने बेरीकेड्स के पास ही उन्हें वाहन रोड किनारे रखने के लिए कहा जिस पर रक्षपाल बोले जानते नहीं मैं कौन हूं। और उप निरीक्षक दीपेंद्र को एक ओर धकेलकर आगे बढ़ गए। कुछ ही दूरी पर तैनात दूसरे एसआई रोहित राजावत ने रक्षपाल और उनके वाहन को रोका तो रक्षपाल ने अपने साथियों के साथ मिलकर उप निरीक्षक से मारपीट करते हुए पिस्टल झपट ली। यह देख अन्य पुलिस बल ने रक्षपाल को घेरकर दो हवाई फायर करते हुए रक्षपाल के कब्जे से पिस्टल वापस ली। वारदात के बाद रक्षपाल के अन्य साथी फरार हो गए जबकि पुलिस ने रक्षपाल को मौके से ही गिरफ्तार कर लिया।

भाजयुमो जिलामंत्री सहित पांच नामजद

पुलिस ने भाजयुमो जिलामंत्री रक्षपाल सिंह राजावत के अलावा उसके छोटे भाई बनियां उर्फ विनोद राजावत, टंटी राजावत, श्यामू भारौली एवं जितेंद्र तोमर को नामजद किया है। वहीं चार अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ भी केस दर्ज किया है।

बचाव में थाने पहुंचे कई भाजपा नेता

विसर्जन स्थल पर मारपीट की वारदात की सूचना उपरांत भाजपा जिलाध्यक्ष नाथू सिंह के अलावा पूर्व जिलाध्यक्ष संजीव कांकर, केशव सिंह भदौरिया, अवधेश सिंह कुशवाह आदि नेता रक्षपाल सिंह के बचाव में फूप थाना पहुंच गए थे।

पिस्टल का कवर टूटा, वर्दी फटी

हमले में उप निरीक्षक रोहित गुप्ता की न केवल वर्दी फट गई थी बल्कि रिवाल्वर का कवर भी टूट गया था। साथ ही वह स्वंय लहूलुहान हो गए। उनके साथ दो आरक्षकों को भी चोटें आईं हैं। रोहित गुप्ता को इलाज के लिए जिला अस्पताल ले जाया गया है।

छावनी बना विसर्जन स्थल

पुलिस दल पर जानलेवा हमले की सूचना के बाद सीएसपी डीएस बैश, एसडीओपी अटेर ओपी मिश्रा, निरीक्षक तिमेश छारी, देहात थाना प्रभारी सीपीएस चौहान सहित बड़ी संख्या में पुलिस लाइन से बल क्वारी नदी के गणेश विसर्जन स्थल पर पहुंच गया था।

-पुलिस पर जानलेवा हमला, पिस्टल लूटने का प्रयास, शासकीय कार्य में बाधा डालने आदि आरोप के तहत केस दर्ज किया गया है। एक आरोपी को गिरफ्तार कर शेष की तलाश की जा रही है।

संजय सोनी, थाना प्रभारी फूप