स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पुरवासियों ने बनाई रणनीति, चौखट पर आज जाएगा प्रशासन

Suresh Jain

Publish: Oct 21, 2019 03:02 AM | Updated: Oct 20, 2019 21:52 PM

Bhilwara

कलक्टर व एसपी सुबह साढ़े दस बजे से करेंगे लोगों से संवाद

भीलवाड़ा।
Cracks in Pur's houses जिन्दल की ब्लास्टिंग से पुर में ३४१ मकानों के क्षतिग्रस्त होने तथा ४ हजार से अधिक मकान को नुकसान होने तथा लोगों की समस्या सुनने सोमवार को जिला प्रशासन पहली बार पुर के लोगों से संवाद करेगा। यह संवाद जिला कलक्टर राजेन्द्र भट्ट व पुलिस अधीक्षक हरेन्द्र महावर भारद्वाज वाटिका में करेंगे। इससे पहले ही पुर के लोगों की एक सभा हुई। इसमें अपनी समस्या को प्रमुखता से जिला प्रशासन के सामने रखने का निर्णय किया। दिल्ली से आई आईआईटी रुड़की की टीम अपनी जांच अगली माह से प्रारम्भ करेगी। भाजपा व शहर विधायक वि_लशंकर अवस्थी की ओर से दिया जा रहा धरना ४८ वे दिन भी जारी रहा। इस मामले को लेकर भाजपा की रविवार को एक बैठक भी होगी। इसमें आगे की रणनीति पर भी चर्चा होगी।


भारद्वाज वाटिका में होगी जनसुनवाई
Cracks in Pur's houses पुर वासियों की समस्या को लेकर भारद्वाज वाटिका में सुबह दस बजे से सुनवाई होगी। रविवार को अधिकारियों ने स्थान का निरीक्षण किया। जिला कलक्टर राजेन्द्र भट्ट ने कहा कि पुरवासियों को अंयत्र विस्थापित करने की कोई मंशा नहीं है। जन सुनवाई में सरकार के प्रस्तावों पर चर्चा होगी। ताकि भ्रम की स्थिति दूर हो सके। लोगों की पांच मांगों पर भी चर्चा होगी।

यह है प्रस्ताव
34१ असुरक्षित मकान मालिकों को 95१०० रुपए का भुगतान होगा। इसके अलावा तीन प्रस्तावों में से एक का चुनाव करना होगा।
- १- सहायता राशि के अलावा पटेल नगर व सुवाणा में रियायती दर व आसान किश्तों में मकान।
- २- सहायता राशि के अलावा मकान की क्षति के बराबर राशि का पटेल नगर के पास आरक्षित दर पर भूखण्ड। असुरक्षित मकान या भूखंड समर्पित करने पर पटेल नगर में ही आरक्षित दर की आधी कीमत पर अतिरिक्त भूखंड।
-३- सहायता राशि के अलावा व्यक्तिगत सहमति प्रस्ताव मिलने पर छह माह में आधी कीमत पर मकान। शेष आधी राशि 10 वर्ष की आसान किश्तों में।

अन्य मकानों के लिए दो प्रस्ताव
अन्य मकानों के लिए दो विकल्प दिए है। पहला रियायती दर पर 450, 800, 1250 व 1920 वर्ग फीट के भूखंड का आवंटन। दूसरा 50 हजार से अधिक की क्षति वाले मकानों को आरक्षित मूल्य पर क्षति की राशि के अनुसार 450, 800, 1250 व 1920 वर्ग फीट के भूखंड का आवंटन 216 रुपए प्रति वर्गफीट की दर से होगा। बाजार दर 800 रुपए प्रतिवर्ग फीट से अधिक है।