स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

नेहरू तलाई का टापू बना आकर्षण का केन्द्र

Suresh Jain

Publish: Aug 24, 2019 11:52 AM | Updated: Aug 24, 2019 11:53 AM

Bhilwara

नजर आने लगे संकटापन्न पक्षी प्रजाति सफेद बूज्जा

भीलवाड़ा।
Nehru Talai नेहरू तलाई का टापू आकर्षण का केन्द्र बना हुआ है। यहां सफेद बूज्जा पक्षीप्रेमियों के लिए कौतूहल का विषय बने हैं। टापू पर करीब 200 घौंसलो के साथ सफेद बूज्जा व अन्य कई पक्षी प्रजातियों का आश्रयस्थली बना हुआ है। यह पक्षी जुलाई-अगस्त में प्रजनन करता है। पक्षी का चोंच से लेकर आधे गले तक का हिस्सा और पैर काले होते हैं। जब बच्चा होता तब हल्की हल्की कू कू की आवाज करता है। वयस्क होते बोलना बन्द कर देता है।

https://www.patrika.com/bhilwara-news/city-sanitation-desecrated-in-bhilwara-3007091/

Nehru Talai यहां पर ग्लोसी आईबीस, कूट, परपल स्वाम्पहेन, कारमोरेन्ट, केटल व लिटिल इग्रेट सहित कई पक्षी प्रजातियों की आश्रय स्थली बना हुआ है।

जलधारा विकास संस्थान के अध्यक्ष महेशचन्द्र नवहाल ने बताया कि नगर विकास न्यास इस टापू पर केफेटिरिया बनाना चाहती थी। इसके बाद विशाल तिरंगा झंडा लगाने की योजना थी। जिसे संस्थान ने ज्ञापन देकर रुकवाया। एनिमल बोर्ड ऑफ इण्डिया के सदस्य अजीत केलकर के दखल पर इस योजना को वापस लिया। जलधारा विकास संस्थान ने जिला प्रशासन से इस स्थान को भीलवाड़ा जिले का चौथा पक्षी विहार घोषित करने की मांग की है।