स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बारिश व समर्थन मूल्य ने बढ़ाया चने के प्रति रुझान

Tej Narayan Sharma

Publish: Jan 17, 2020 01:52 AM | Updated: Jan 17, 2020 01:52 AM

Bhilwara

जिले के किसानों क चना व गेहूं की बुवाई के प्रति रुझान बढ़ा है। लक्ष्य की तुलना में 22 हजार हैक्टेयर में अधिक चने की बुवाई हुई।

भीलवाड़ा ।

जिले के किसानों क चना व गेहूं की बुवाई के प्रति रुझान बढ़ा है। लक्ष्य की तुलना में 22 हजार हैक्टेयर में अधिक चने की बुवाई हुई। चने के लिए इस बार 45 हजार हैक्टेयर में बुवाई का लक्ष्य था जबकि 66,862 हैक्टेयर में बुवाई हुई। इस वर्ष रबी की बुवाई का क्षेत्रफल 2.61 लाख हैक्टेयर था, जो बढ़कर 2.94 लाख हैक्टेयर हो गया है। कृषि अधिकारियों की माने तो अच्छी बरसात व उपयुक्त समय मिलने से बुवाई अधिक हुई है। ऐसे में उत्पादन अच्छा रहने की संभावना है।

चने की बुवाई का उपयुक्त समय 20 अक्टूबर से शुरू होता है। इस बार अक्टूबर तक बरसात से चने के क्षेत्रफल में बढ़ोतरी हुई है। कृषि विभाग से भी किसानों को चना व गेहूं बुवाई के लिए प्रोत्साहित किया गया। किसानों को चने की उन्नत किस्मों के बीजों की जानकारी दी गई। किसानों ने जौ की भी 25 हजार हैक्टेयर के मुकाबले ४२,२२० हैक्टेयर में बुवाई हुई है। गेहूं की बुवाई के लिए 1.30 लाख हैक्टेयर का लक्ष्य रखा था जबकि किसानों ने पानी की उपलब्धता को देखते 1 लाख 47,197 हैक्टेयर में बुवाई हुई।


ज्यादा सिंचाई की जरूरत नहीं...
चने की फसल में ज्यादा सिंचाई की आवश्यकता नहीं रहती। कृषि अधिकारियों के अनुसार चने को किसानों को प्रथम सिंचाई बिजाई के 50 से 55 दिन बाद तथा दूसरी सिंचाई आवश्यक होने पर 100 दिन बाद करनी चाहिए। यदि एक ही सिंचाई उपलब्ध होने की स्थिति में बिजाई के 60 से 65 दिन बाद सिंचाई करनी चाहिए। फव्वारे से सिंचाई करनी हो तो बुवाई के 60 दिन एवं 110 दिन बाद करनी चाहिए। प्रत्येक सिंचाई 6 सेंटीमीटर गहरी आवश्यक है। बारानी क्षेत्र में बिजाई के बाद पूरे सीजन में एक-दो बार हल्की बरसात पर भी उत्पादन अच्छा होता है। ऐसे में किसानों का चने बिजाई के प्रति रुझान बढ़ा है। इस बार केंद्र सरकार से चना का समर्थन मूल्य बढ़ाया गया है। समर्थन मूल्य में 255 रुपए प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की गई है। पहले चना की सरकारी दर 4620 रुपए प्रति क्विंटल थी, जो अब 4875 रुपए हो गई है।


यह है जिले में स्थिति
किस्म लक्ष्य बुवाई
गेहूं 130000 147197
जौ 25000 42220
चना 45000 66862
सरसों 40000 3381
तारामीरा 2000 21646
अन्य 19000 12350
योग 261000 293656

[MORE_ADVERTISE1]