स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

लैब रजिस्ट्रेशन की अवधि एक माह बढ़ाई

Suresh Jain

Publish: Sep 15, 2019 02:03 AM | Updated: Sep 14, 2019 20:50 PM

Bhilwara

15 अक्टूबर के बाद भी रजिस्ट्रेशन नहीं होने पर होगी कार्रवाई

भीलवाड़ा।
Lab registration चिकित्सा लैब के रजिस्ट्रेशन की अंतिम तिथि 15 सितंबर से बढ़ाकर 15 अक्टूबर कर दी गई है। दो सप्ताह में दूसरी बार अवधि बढ़ाई है। पहले ३1 अगस्त से बढ़ा 15 सितंबर की गई थी। इस बार रजिस्ट्रेशन के लिए ऑनलाइन सॉफ्टवेयर में तकनीकी खामी की वजह से तिथि बढ़ाई है।उधर, लैब संचालक रजिस्ट्रेशन की शर्तों में कुछ राहत की मांग कर रहे हैं।


Lab registration लैब संचालकों के अनुसार पोर्टल के सॉफ्टवेयर में रजिस्ट्रेशन के लिए चिकित्सा पद्धति की ऐलोपैथी, आयुर्वेद, होम्योपैथी आदि का ऑप्शन भरना जरूरी है। लैब संचालक सिर्फ जांच करते हैं। इलाज के लिए चिकित्सा पद्धति जरूरी है। इस वजह से आवेदन नहीं कर पा रहे हैं। लैब संचालक बेसिक लैब में जांच पर एमबीबीएस डॉक्टर के हस्ताक्षर की बाध्यता हटाने और लैब टेक्नीशियन की रिपोर्ट की ही स्वीकार्य होने की शर्त रखने की मांग कर रहे हैं। इसी वजह से लैब संचालक रजिस्ट्रेशन नहीं करवा रहे हैं।

Lab registration चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की और से जारी गाइड लाइन के अनुसार रजिस्ट्रेशन के लिए लैब टेक्नीशियन का पैरा मेडिकल काउंसिल में पंजीकरण होना जरूरी है। काउंसिल 2014 में बनी थी। इससे पहले के लैब संचालकों का काउंसिल में रजिस्ट्रेशन नहीं है।