स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

यह तालाब नहीं, स्कूल है

Durgeshwari Sharma

Publish: Aug 13, 2019 13:51 PM | Updated: Aug 13, 2019 13:51 PM

Bhilwara

भीलवाडा। भीलवाडा जिले के बीगोद कस्बे में स्थित नई आबादी राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय (school) परिसर में बरसात का पानी (rain water) भरे 20 दिन हो गए हैं, लेकिन अब तक बरसात का पानी को निकलवाने में विद्यालय, पंचायत व शिक्षा विभाग गम्भीर नहीं है, इससे बच्चों की जान खतरे में है इससे अभिभावकों (parents) में रोष है। In Bhilwara -This is a school, not a pond

बीगोद। बीगोद कस्बे में स्थित नई आबादी राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय (school) परिसर में एक नजर में यहां तालाब सा दिखाई देता है परन्तु यह तालाब नहीं राजकीय सरकारी स्कूल परिसर है। स्कूल परिसर में एक- दो दिन नहीं लगभग 20 दिन से बरसात का पानी (rain water) भरा हुआ है वह भी तीन फीट। परिसर में गहरा पानी एवं ऊपर से जहरीले जन्तुओं का खतरा। स्कूल में विद्यार्थियों (students) पर हरपल मौत मण्डराती रहती है, फिर भी किसी भी ने सुध तक नहीं ली। In bhilwara -This is a school, not a pond

विद्यालय परिसर में कहीं —कहीं तो तीन फीट तक पानी भरा है। स्कूल परिसर में बनी पेयजल टंकियों भी पानी से घिरी हुई हैं। पानी पीने के लिए विद्यार्थियों का टंकियों तक पहुंचना भी नामुमकिन है। In Bhilwara -This is a school, not a pond

प्रधानाचार्य राधेश्याम चांवरिया ने बताया कि स्कूल परिसर में भरे बरसात का पानी (rain water) से विद्यार्थियों व अद्यापकों को भी परेशानी हो रही है। पानी अधिक भरा होने से हरपल बच्चों (students) का ध्यान रखना पडता है। परिसर में भरे पानी की सूचना उच्चाधिकारियों को दी गई है परन्तु अभी तक समाधान नहीं हो पाया है। In Bhilwara -This is a school, not a pond

स्कूल समिति के अध्यक्ष अकबर मीर, हरिशंकर मेवाड़ा, जमनालाल रेगर ने बताया कि स्कूल (school) जाने के मुख्य रास्ते में कीचड़ है। परिसर में भरे बरसात के पानी के बारे में कई बार शिकायत भी की गई परन्तु किसी ने भी समस्या को गंभीरता से नहीं लिया है। स्कूल परिसर में भरे पानी में हादसा होने का भय बना रहता है। इस समस्या का शीघ्र समाधान नहीं किया गया तो उग्र आंदोलन करने को बाध्य होंगे। In Bhilwara -This is a school, not a pond

अभिभावकों (parents) ने बताया कि स्कूल (school) परिसर में भरे पानी से कभी भी बड़ा हादसा होने की आशंका बनी रहती है। स्कूल (school) समय में अद्यापक विद्यार्थियों (students) पर नजर रखते हैं। बच्चे स्कूल समय के बाद भी परिसर के आसपास खेलते हैं और बस्ती होने से भी बच्चों पर खतरा बना हुआ है। स्कूल (school) प्रशासन को शिकायत करके थक चुके है परन्तु अधिकारी अब भी तक गंभीर नहीं है।

इस बारे में सरपंच गणेश पारीक ने बताया कि स्कूल (school) के लिए सीसी सड़क बनाने व नाला बनवाने के लिए ग्राम पंचायत (gram panchayat) तैयार है परन्तु अधिकारी भी सहयोग करें तो समस्या खत्म हो सकती है। In Bhilwara -This is a school, not a pond

माण्डलगढ़ सीबीईओ रामेश्वर लाल जाट ने बताया कि स्कूल (school) परिसर में भरे बरसात के पानी (rain water) की निकासी की व्यवस्था विभाग के पास नहीं है। ग्राम पंचायत अपने स्तर पर ही पानी निकासी (rain water) की व्यवस्था कर सकते है। In Bhilwara -This is a school, not a pond