स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

तबादला नहीं हुआ तो शिक्षिका ने खुद ही बना दिया आदेश, होना पड़ा निलंबित

Jasraj Ojha

Publish: Sep 21, 2019 17:04 PM | Updated: Sep 21, 2019 17:04 PM

Bhilwara

जोरावरपुरा मांडल से श्रीगंगानगर में किया तबादला


भीलवाड़ा. शिक्षा विभाग में तबादलों का दौर क्या शुरू हुआ शिक्षकों ने इसमें भी फर्जीवाड़ा करना शुरू कर दिया। जिले में कार्यरत एक शिक्षिका ने तो खुद का तबादला करने के लिए फर्जी आदेश तैयार करा दिया और तबादला श्रीगंगानगर कर दिया। पता चलने पर शिक्षिका को निलंबित कर दिया है। हालांकि इस आदेश में एक और शिक्षक का नाम शामिल है। जिले के माण्डल तहसील क्षेत्र के जोरावरपुरा हायर सैकंडरी स्कूल में कार्यरत शिक्षिका ने शासन उप सचिव के फर्जी हस्ताक्षर कर अपना तबादला करना श्रीगंगानगर के मानकसर में कर दिया। अब निदेशक के आदेश पर जिला शिक्षा अधिकारी मुख्यालय माध्यमिक ब्रह्माराम चौधरी ने शिक्षिका नेहा को निलम्बित कर दिया। शिक्षा विभाग के शासन उप सचिव डॉ. राष्टकृदीप यादव के 5 सितम्बर को हस्ताक्षर युक्त एक आदेश जारी कर जिले के माण्डल ब्लॉक के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय जोरावरपुरा की द्वितीय श्रेणी अंग्रेजी की शिक्षिका नेहा ने अपना तबादला राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय मानकसर गंगानगर किया गया। आदेशों की जांच-पड़ताल करने पर स्थानान्तरण आदेश फर्जी हस्ताक्षर कर जारी करना पाया गया। डीईओ चौधरी ने शिक्षिका नेहा को कूट रचित स्थानान्तरण आदेशों की जांच होने पर उसे तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया। साथ ही डीईओ ने निलम्बन काल में शिक्षिका नेहा को मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी माण्डल में ड्यूटी देने के आदेश जारी किए।