स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

वस्त्रनगरी ने दिए 189 नए सीए, देशभर मे बजा हमारा डंका

Rajesh Kumar Jain

Publish: Jan 17, 2020 20:32 PM | Updated: Jan 17, 2020 20:32 PM

Bhilwara

आईसीएआई ने घोषित किया सीए फाइनल नवंबर 2019 का परिणाम

भीलवाड़ा।

देश और विदेशों में भीलवाड़ा के सीए काम कर रहे हैं। यही वजह है कि इस कोर्स के प्रति रुझान बढ़ रहा है। गुरुवार को दी इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया ने सीए फाइनल नवम्बर 2019 परीक्षा का परिणाम घोषित किया है। इसमें शहर से १८९ नए सीए बने हैं। न्यू सिलेबस में80तथा ओल्ड सिलेबस में 101 स्टूडेंट्स ने सीए फाइनल परीक्षा में बाजी मारी है। आईसीएआई भीलवाड़ा शाखा अध्यक्ष सीए आलोक पलोड़ ने बताया कि न्यू सिलेबस में बोथ ग्रुप का परिणाम 15.12 प्रतिशत रहा तथा ओल्ड सिलेबस का बोथ ग्रुप का परिणाम 10.19 प्रतिशत रहा। शाखा सचिव सीए दिनेश सुथार ने बताया कि न्यू सिलेबस में 269 विद्यार्थी बैठे जिनमें से 80 पास हुए हैं। इस ग्रुप का परिणाम 29.73 प्रतिशत रहा। इसी के साथ ओल्ड सिलेबस में 359 विद्यार्थियों ने भाग लिया जिनमे से 109 पास हुए एवं परिणाम 30.36 प्रतिशत रहा।
------------

जून में आई थी दो ऑल इंडिया रैंक
आईसीएआई की ओर से जून 2019 में आयोजित परीक्षा का परिणाम 13 अगस्त को जारी किया। इसमें मुकंद माहेश्वरी की 13वीं व जिनेंद्र जैन ने 39वीं रैंक सीए फाइनल में प्राप्त की थी। इस बार कोई रैंक नहीं आई है।


सीए फाइनल में ये हैं सिटी के रैंकर

न्यू सिलेबस रैंकरनाम-ऋषभ की सिटी में पहली रैंक
एलएनटी रोड निवासी भरत गोखरू-नयना गोखरू के बेटे ऋषभ जैन ने न्यू सिलेबस में 493 अंक प्राप्त कर सिटी में पहली रैंक हासिल की है। ऋषभ ने बताया कि दादा सुंदरलाल गोखरू व दादी कैलाशदेवी गोखरू का आशीर्वाद से ही यह संभव हुआ है।


ओल्ड सिलेबस के रैंकर-गौरव करना चाहते हैं परिवार का नाम
कोटड़ी चारभुजा निवासी कपड़ा व्यापारी धर्मचंद जैन-ललिता जैन के बेटे गौरव जैन ने सीए फाइनल ओल्ड सिलेबस में 445 अंक प्राप्त कर जिले में पहली रैंक प्राप्त की है। गौरव ने बताया कि ये उनका चौथा प्रयास था जिसमें सफलता मिली है। इसके बावजूद वे हिम्मत नहीं हारे। गौरव ने बताया कि वे कॉरपोरेट ग्रुप में जॉब करना चाहते हैं।

[MORE_ADVERTISE1]