स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

इन कारणों से बादल परिवार के विरोध में उतरा यूनाइटेड सिख मूवमेंट, लोकसभा चुनाव में सभी को हराने का किया ऐलान

Prateek Saini

Publish: Apr 29, 2019 20:10 PM | Updated: Apr 29, 2019 20:10 PM

Bhatinda

यूनाइटेड सिख मूवमेंट के नेताओं ने यहां पत्रकारवार्ता में कहा कि...

(चंडीगढ,भटिंडा): पंजाब में सिख समुदाय में अपना जनाधार खो रहे शिरोमणि अकाली दल को इस लोकसभा चुनाव में नई चुनौती का सामना करना पडेगा। यूनाइटेड सिख मूवमेंट ने आज यहां ऐलान किया कि संगठन इस लोकसभा चुनाव में बादल परिवार के सदस्य अकाली दल के प्रत्याशियों को हराने के लिए काम करेगा।

 

यूनाइटेड सिख मूवमेंट के नेताओं ने यहां पत्रकारवार्ता में कहा कि भटिंडा से अकाली दल प्रत्याशी केन्द्रीय मंत्री हरशिमरत कौर बादल और फिरोजपुर से प्रत्याशी सुखवीर बादल को हराने के लिए अभियान शुरू किया जाएगा। उन्होंने कहा कि आगामी तीन मई से इस अभियान की शुरूआत की जायेगी।

 

उन्होंने कहा कि जिस तरह से पहले सिखों की दुश्मन नम्बर एक कांग्रेस थी उसी तरह अब बादल परिवार के नेतृत्व वाली अकाली दल नम्बर एक दुश्मन है। उन्होंने गुरूग्रंथ साहिब के अपमान की घटनाओं और सिखों पर पुलिस फायरिंग की घटनाओं की जांच कर रही पंजाब पुलिस की एसआईटी से आईजी कुंवर विजय प्रताप को हटाए जाने के विरोध में कहा कि आज हर सिख कुंवर विजय प्रताप है। उन्होंने कहा कि हरशिमरत और सुखवीर को हराने के लिए मजबूत प्रत्याशी को समर्थन दिया जाए। भले ही कांग्रेस प्रत्याशी मजबूत है तो उसे समर्थन दिया जाए। उन्होंने पंजाब एकता पार्टी प्रत्याशी सुखपाल खैहरा से मजबूत प्रत्याशी के पक्ष में हटने की अपील भी की। उन्होंने कहा कि ये लोकसभा चुनाव पंजाब को नया मोड देंगे।