स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

इस बार पति सुखवीर और पत्नी हरसिमरत दोनों लडेंगे लोकसभा चुनाव, इन सीटों से पार्टी ने बनाया उम्मीदवार

Prateek Saini

Publish: Apr 23, 2019 18:52 PM | Updated: Apr 23, 2019 18:52 PM

Bhatinda

शिरोमणि अकाली दल के संरक्षक प्रकाश सिंह बादल ने आज यहां लोकसभा चुनावों के लिए अपनी पार्टी के उम्मीदवारों का ऐलान किया...

(चंडीगढ,भटिंडा): इस बार अकाली दल के नेता सुखवीर बादल और उनकी पत्नी हरसिमरत कौर बादल दोनों ही लोकसभा चुनाव लड़ने जा रहे हैं। हरसिमरत कौर बादल अभी भटिंडा से लोकसभा सदस्य हैं। पार्टी ने उन्हें फिर इसी सीट से टिकट दिया है। सुखवीर बादल को फिरोजपुर लोकसभा सीट से टिकट दिया गया है। सुखवीर बादल अब तक पंजाब प्रदेश की राजनीति कर रहे थे। वे पिछली अकाली-भाजपा सरकार में अपने पिता प्रकाश सिंह बादल के मुख्यमंत्री रहते उपमुख्यमंत्री थे। विधानसभा में अब तक जलालपुर सीट का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं लेकिन अब सुखवीर फिरोजपुर लोकसभा सीट से चुनाव लड़कर केन्द्र की राजनीति में पहुंचना चाहते है।

 

शिरोमणि अकाली दल के संरक्षक प्रकाश सिंह बादल ने आज यहां लोकसभा चुनावों के लिए अपनी पार्टी के उम्मीदवारों का ऐलान किया। बादल ने इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की प्रशंसा करते हुए कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अभी तक राजनीति में अनुभवहीन हैं। राहुल को कोई प्रशासनिक अनुभव नहीं है। उन्होंने कभी मंत्री या मुख्यमंत्री के पद पर काम नहीं किया। प्रधानमंत्री बनने के लिए अनुभव की जरूरत है। मोदी ने पाकिस्तान को अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर अलग-थलग कर दिया है। उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री कैप्टेन अमरिंदर सिंह ने किसानों की कर्ज माफी व नशा मुक्ति के वायदे किए थे। लेकिन उनको ईमानदारी से पूरा नहीं किया गया। कांग्रेस ने अकाल तख्त पर हमला किया और हमारी नदियों का पानी छीन लिया गया। जबकि मोदी ने करतारपुर साहिब कॉरिडोर खोलने समेत कई महत्वपूर्ण फैसले किए।


पंजाब में लोकसभा की 13 सीट है। इनमें से अकाली दल दस और भाजपा तीन सीटों पर चुनाव लडती है। अकाली दल ने अपनी सभी सीटों पर प्रत्याशी घोषित कर दिए हैं, लेकिन भाजपा ने अमृतसर सीट से केन्द्रीय शहरी विकास राज्यमंत्री हरदीप पुरी को प्रत्याशी घोषित करने के बाद अन्य दो सीटों होशियारपुर व गुरदासपुर से अभी प्रत्याशी घोषित नहीं किए हैं।