स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

कांग्रेस के नेता कंफ्यूज, सोच डिफ्यूज, अहंकार चरम पर:मोदी

Prateek Saini

Publish: May 13, 2019 20:47 PM | Updated: May 13, 2019 20:47 PM

Bhatinda

प्रधानमंत्री ने बठिंडा में किया चुनावी रैली को संबोधित...

 

(चंडीगढ़,बठिंडा): भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज पंजाब के बठिंडा में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा है कि देश में छह चरणों की वोटिंग के दौरान एनडीए व उसके घटक दलों को मिल रही बढ़त से बौखलाई कांग्रेस आज केवल पचास सीटों के लिए संघर्ष कर रही है। हालात यह हैं कि कांग्रेस के सभी नेता बुरी तरह से कंफ्यूज हैं और उनकी सोच डिफ्यूज हो चुकी है। समूची कांग्रेस पार्टी में अहंकार चरम पर है। मोदी ने राहुल गांधी की कोर टीम के सदस्य सैम पित्रोदा द्वारा 1984 के दंगों पर दिए गए बयान की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए कहा कि यह कांग्रेस पार्टी और गांधी परिवार की दंगों व सिख समुदाय के प्रति सोच को दर्शाता है। उन्होंने रैली में मौजूद पंजाबियों से सीधा संवाद करते हुए कहा कि कांग्रेस के नामदार (राहुल गांधी) अगर पंजाब आएं, तो उनसे पूछा जाए कि कांग्रेस पार्टी कब तक उनके जख्मों पर नमक छिडक़ने का काम करती रहेगी। उन्होंने कहा कि दंगों के संबंध में दिए गए बयान पर पित्रोदा नहीं बल्कि राहुल गांधी को शर्म आनी चाहिए।


मोदी ने कहा कि वर्ष 2014 में पंजाब के लोगों से किए गए वादे के बाद भाजपा ने दंगा पीडि़तों को न्याय देने का प्रयास किया है, जिसके चलते आज दंगों के आरोपी जेल में हैं। उन्होंने मंच से ऐलान किया कि सिख दंगों के जो आरोपी बाहर हैं, वह भी जल्द ही सलाखों के पीछे होंगे। दूसरी तरफ कांग्रेस ने इन दंगों के आरोपियों को बचाते हुए आजतक कमेटी और कमीशन का खेल खेला है।


मोदी ने कहा कि वर्ष 1984 में जो घटनाक्रम इस देश में हुआ उसने इंसानियत को तार-तार करने का काम किया है। मोदी ने हरसिमरत बादल को चुनाव में जिताने की अपील करते हुए कहा कि देश को आज फिर से एक मजबूत सरकार की जरूरत है। इसलिए पूरा देश फिर से भाजपा को सत्ता देने के लिए तैयार हो गया है।