स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

यात्रा में पूरे रास्ते आसमान से ड्रोन ने की...

Pramod Kumar Verma

Publish: Sep 11, 2019 21:30 PM | Updated: Sep 11, 2019 21:30 PM

Bharatpur

भरतपुर. गजानन सेवक ट्रस्ट के गणेश महोत्सव का समापन बुधवार को प्रथम पूज्य दाता गणेश की साढ़े फीट की प्रतिमा के विसर्जन के साथ हुआ। इससे पहले नीमदा गेट स्थित शुभम् मैरिज होम से सिद्धि विनायक की विसर्जन शोभायात्रा निकाली गई, जो अनाह गेट, पत्थर की टाल, कोतवाली, लक्ष्मण मंदिर से अटलबंद होते हुए मैरिज होम पहुंची। पूरे रास्ते ड्रोन ने पुष्पवर्षा की।

भरतपुर. गजानन सेवक ट्रस्ट के गणेश महोत्सव का समापन बुधवार को प्रथम पूज्य दाता गणेश की साढ़े फीट की प्रतिमा के विसर्जन के साथ हुआ। इससे पहले नीमदा गेट स्थित शुभम् मैरिज होम से सिद्धि विनायक की विसर्जन शोभायात्रा निकाली गई, जो अनाह गेट, पत्थर की टाल, कोतवाली, लक्ष्मण मंदिर से अटलबंद होते हुए मैरिज होम पहुंची। पूरे रास्ते ड्रोन ने पुष्पवर्षा की।

यहां कृत्रिम कुंड में गणेश जी की प्रतिमा का विसर्जन धूमधाम से किया गया। इससे पूर्व शोभायात्रा में गणेश जी की प्रतिमा के साथ शिव-पार्वती, राधा-कृष्ण की सजीव झांकियां निकाली गई। इसमें ड्रोन के माध्यम से पूरे रास्ते में पुष्पवर्षा की गई, जो आकर्षण का केंद्र रहा।

शोभायात्रा में सजीव झांकियों के साथ बैंडबाजों की धुनों पर श्रद्धालु नाचते-गाते निकले। चहुंओर गणपति बप्पा मोर्या... अब के बरस तू जल्दी आ और देवा ओ देवा गणपति देवा तुमसे बढ़कर कौन, स्वामी तुमसे..., आदि भजनों पर गुलाल उड़ाते श्रद्धालु गणेश विसर्जन कार्यक्रम में सराबोर नजर आए।

ट्रस्ट के अध्यक्ष सुचित खंडेलवाल कुन्ना ने बताया कि इसमें ड्रोन से पुष्पवर्षा की गई और विसर्जन शोभायात्रा के मैरिज होम पहुंचने पर गणेश जी की प्रतिमा का विसर्जन कृत्रिम कुंड में किया गया। उन्होंने बताया कि कुंड में विसर्जन के अगले दिन मिट्टी को श्रद्धालुओं को दिया जाएगा। श्रद्धालु इस मिट्टी को अपने घरों में ले जाएंगे।