स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जिम्मेदारों ने नहीं ली सुध तो रिक्शा चालक निकल पड़ा गड्ढे भरने

Rohit Sharma

Publish: Oct 13, 2019 04:10 AM | Updated: Oct 12, 2019 22:52 PM

Bharatpur

कामां कस्बे की सड़कों पर हो रहे गड्ढों की समस्या के प्रति जब जिम्मेदार सार्वजनिक निर्माण और नगर पालिका प्रशासन ने सुध नहीं ली तो बाइक रिक्शा चालक ने इसका जिम्मा उठाया।

भरतपुर. कामां कस्बे की सड़कों पर हो रहे गड्ढों की समस्या के प्रति जब जिम्मेदार सार्वजनिक निर्माण और नगर पालिका प्रशासन ने सुध नहीं ली तो बाइक रिक्शा चालक ने इसका जिम्मा उठाया। रिक्शा चालक कस्बे के दूर-दराज के क्षेत्रों से मलबा लाकर सड़कों के गड्ढों को भरने का काम शुरू कर दिया। उसकी यह पहल इन दिनों क्षेत्र में चर्चा का विषय बनी हुई है। इसके अलावा वह घायल गोवंशों भी पशु अस्पताल पहुंचाता है।


रिक्शा चालक नंदू ने बताया कि वह बाइक रिक्शा लेकर कस्बेके विभिन्न इलाकों से निकलता है, उसे इन गड्ढों से असुविधा होती है। इन गड्ढों में पानी व कीचड़ जमा होने से कई बार हादसा होने का भय बना रहता है। कस्बे के लोगों ने कई बार नगर पालिका व सार्वजनिक निर्माण विभाग को इन गड्ढों की समस्या से अवगत कराया लेकिन प्रशासन ने कोई सुध नहीं ली। जिस पर नंदू ने स्वयं ही इस समस्या के समाधान का बीड़ा उठाया।


वह अपने रिक्शा चलाने के दौरान जब भी समय मिलता तो कस्बा या बाहर से मलबा और मिट्टी एकत्रत कर इन गड्ढों को भरने का काम करता है। इसके अलावा नंदू घायल गोवंशों की सेवा करता है। वह घायल गोवंशों के लिए रिक्शे की नि:शुल्क सेवा उपलब्ध कराता है। घायल गोवंश को वह हरियाणा इलाके में पशु अस्पताल तक पहुंचाता है। उसका यह सेवा भाव लोगों में चर्चा का विषय बना हुआ है।