स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पंद्रह साल बाद फिर महिला के हाथों में होगी बेमेतरा शहर की सत्ता

Laxmi Narayan Dewangan

Publish: Sep 19, 2019 07:10 AM | Updated: Sep 18, 2019 23:00 PM

Bemetara

भाजपा को केंद्र की मोदी सरकार के कामों से लाभ मिलने की उम्मीद तो कांग्रेस को राज्य के भूपेश सरकार के सहारे नैया पार होने की उम्मीद

बेमेतरा . नगर पलिका बेमेतरा की कमान महिला के हाथ में होगी। अध्यक्ष पद महिला (अनारक्षित) होने के बाद नगर में राजनीतिक गहमा गहमी बढ़ गई। इस पद के लिए अब किसी भी वर्ग की महिला चुनाव लड़ सकती है। अध्यक्ष पद महिला के लिए आरक्षित होने के बाद चुनाव लडऩे के इच्छु पुरुष मायूस हुए हैं। राजधानी में बुधवार को बेमेतरा नगर पालिका समेत जिले के नवागढ़, साजा, बेरला, थानखम्हरिया व परपोड़ी नगर पंचायत अध्यक्ष के अध्यक्ष पदों का आरक्षण किया गया। बताया गया कि 1982 की सामाजिक आर्थिक व जातिगत जनगणना के आकडों का आधार मानकर आरक्षण किया गया।

2005 में मिला था महिलाओं को मौका
बेमेतरा नगर पालिका में वर्ष 2005 के दैारान हुए निर्वाचन प्रकिया में अध्यक्ष पद समान्य महिला हुआ था। फिर वर्ष 2010 से समान्य पुरूष हुआ। वर्ष 2015 के दैारान अध्यक्ष पद अन्य पिछडा वर्ग के लिए आरक्षित हुआ था। जिसके बाद आ्रगामी निर्वाचान के लिए महिला अनारक्षित हुआ है। बेमेतरा नगर पालिका मे 23158 मतदाता हैं। जिसमें 11542 महिला और 11546 पुरूष मतदाता हैं। हालाकी मतदाताओ का नाम जोडऩे व संशोधन की प्रकिया जारी है। मतदाताओ की अंतिम सूची प्रकाशन के बाद मतादाताओं की संख्या बढ़ेगी।

नवागढ़ व बेरला में एससी पुरूष, अन्य वर्ग की दावेदारी समाप्त
जिले के नवागढ़ व बेरला नगर पंचायत में अध्यक्ष का पद एससी पुरूष वर्ग के लिए आरक्षित किया गया है। इस पद पर अन्य वर्ग के दावेदारों की दावेदारी समाप्त हो गई। अब कांग्रेस व भाजपा दोनों राजनीतिक दलों के लिए योग्य और जीतने में सक्षम उम्मीदवार ढूंढना चुनौतीपूर्ण होगी। साजा व थानखम्हरिया नगर पंचायत पद महिला अनारक्षित है। यहां कोई भी वर्ग की महिला चुनाव लड़ सकती है। पिछली बार दोनों जगह अन्य पिछड़ा वर्ग पुरुष के लिए आरक्षित हुआ था। परपोडी में अध्यक्ष का पद भी अनारक्षित महिला है। यहां पिछली बार समान्य वर्ग पुरूष के लिए आरक्षित था।

अब वार्ड आरक्षण पर निगाहें
जिले के निकायों के प्रमुखों के पद के लिए आरक्षण तय होने के बाद अब वार्डों से चुने जाने वाले पार्षद पद के लिए आरक्षण की प्रकिया जिला स्तर किया जाएगा। बेमेतरा नगर पालिका मे 21 वार्ड हैं। बेरला नगर पंचायत ,साजा नगर पंचायत, नवागढ़ नगर पंचायत, थानखम्हरिया नगर पंचायत ,परपोड़ी व देवकर नगर पंचायत मे 15 -15 वार्ड हैं जिनके के लिए पार्षद पदों के लिए आरक्षण किया जाएगा। जहां अध्यक्ष का पद महिला के लिए आरक्षित हो गया हैं वहां पुरुष दावेदार अब वार्ड में ठौर ढूंढेंगे। उन्हें अब वार्डों का आरक्षण का इंतजार है।

मोदी सरकार के काम से संतुष्ट है जनता
इस संबंध में भाजपा जिलाध्यक्ष राजेन्द्र शर्मा ने कहा कि आरक्षण का हम स्वागत करते हैं। पार्टी नगरीय निकाय चुनाव के लिए पूरी तरह से कमर कसकर तैयार है। केन्द्र की मोदी सरकार के कामकाज से जनता संतुष्ट है । जिनका हमें लाभ मिलेगा। नगर पालिका बेमेतरा में महिला को नेतृत्व करने का अवसर मिला है। आरक्षण का इंतजार था जितने वाले व योग्य प्रत्याश्षी को चुनाव मैदान में उतारा जाएगा।

भूपेश की सरकार से खुश हैं जिले के लोग
कांगे्रस जिलाध्यक्ष अवनीश राघव ने कहा कि जिले के नगरीय निकायों में ज्यादातर लोग खेती से जुड़े हुए हैं।मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार किसान हितैषी है। उन्होंने किसानों व गरीबों के हित में फैसला लिया है। धान का समर्थन मूल्य 2500 रुपए, कर्ज माफी, सस्ता राशन सहित एपीएल परिवारों का भी राशन कार्ड बनाया जा रहा है। जिसका फायदा मिलेगा और सभी निकायों में हमारी जीत होगी।

बेमेतरा जिले के सात निकायों में आरक्षण
नगर पालिका बेमेतरा - महिला अनारक्षित
नगर पंचायत नवागढ - पुरुष अजा
नगर पंचायत बेरला - पुरुष अजा
नगर पंचायत साजा - महिला अनारक्षित
नगर पंचायत परपोड़ी - महिला अनारक्षित
नगर पंचायत थान खहरिया - महिला अनारक्षित
नगर पंचायत देवकर - अन्य पिछडा वर्ग महिला