स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

रिश्वत मांगने वाली महिला पटवारी को 65 साल के बुजुर्ग किसान ने ऐसे सिखाया सबक, जिंदगी भर रखेगी याद, Video

Dakshi Sahu

Publish: Oct 15, 2019 15:19 PM | Updated: Oct 15, 2019 15:19 PM

Bemetara

65 साल के एक बुजुर्ग किसान ने भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लड़कर रिश्वत मांगने वाली महिला पटवारी को जिंदगी भर के लिए सबक सिखा दिया। (Anti Corruption Bureau Chhattisgarh)

बेमेतरा. जिला मुख्यालय में 65 साल के एक बुजुर्ग किसान ने भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लड़कर रिश्वत (Bribe case in Bemetara)मांगने वाली महिला पटवारी को जिंदगी भर के लिए सबक सिखा दिया। रोज-रोज के रिश्वत से तंग आकर किसान दुकलहा वर्मा ने भ्रष्ट महिला पटवारी की एंटी करप्शन ब्यूरो (Anti Corruption Bureau chhattisgarh) में शिकायत कर दी। जिसके बाद ऑफिस में बैठकर रिश्वत लेती हुई महिला पटवारी रंगे हाथ पकड़ी गई। बेमेतरा के वार्ड 6 निवासी बुजुर्ग किसान (elder man Bemetara) ने बताया कि बड़ी मुश्किल से आर्थिक तंगी के कारण उसने अपनी जमीन बेची थी। जिसके नकल के लिए बार-बार महिला पटवारी रिश्वत मांगती थी। मैंने फैसला किया इस पटवारी को सबक सिखा कर ही रहूंगा। इसलिए शिकायत करने का मन बनाया। भ्रष्टाचार के खिलाफ मैं आज चुप रहता तो इस भ्रष्ट सरकारी कर्मचारी का हौसला दिनोंदिन बढ़ता जाता। इसलिए अन्याय के खिलाफ लड़ाई की।

सात हजार रिश्वत लेते पकड़ी गई
जिला मुख्यालय में एक महिला पटवारी मंगलवार को सात हजार रुपए रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ी गई। एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम ने 65 वर्षीय बुजुर्ग की शिकायत पर मंगलवार को पटवारी कार्यालय में पहुंचकर कार्रवाई की। मिली जानकारी के अनुसार हल्का नंबर 47 की पटवारी आकांक्षा मेमन ने जमीन संबंधी नकल के लिए दस हजार रुपए रिश्वत की डिमांड की थी। इसके एवज में पीडि़त बुजुर्ग सात हजार रुपए लेकर आज सुबह पटवारी कार्यालय पहुंचा। वहां पहले से उपस्थित एसीबी की टीम ने सात हजार रिश्वत लेते महिला पटवारी को रंगे हाथ पकड़ लिया।

पीडि़त ने की थी शिकायत
महिला पटवारी की रिश्वत की मांग की शिकायत पीडि़त किसान ने एंटी करप्शन ब्यूरो में की थी। मिली जानकारी के अनुसार नगर के वार्ड 6 का निवासी पीडि़त दुकलहा वर्मा ने कुछ दिन पहले अपनी जमीन बेची थी। जिसके नकल के लिए वह पटवारी कार्यालय के चक्कर लगा था। इस दौरान महिला पटवारी लगातार उससे पैसों की डिमांड कर रही थी। जिसकी शिकायत पीडि़त ने 30 सितंबर को थी। एसीबी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए मंगलवार को पीडि़त को रिश्वत के पैसे लेकर कार्यालय भेजा और ट्रेस करते हुए पटवारी को पकड़ लिया। फिलहाल टीम पटवारी के अन्य दस्तावेजों की जांच कर रही है।