स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

दीवार गिरने से महिला की हो गई मौत और दो दिन बाद भी अधिकारियों को कुछ पता नहीं

Laxmi Narayan Dewangan

Publish: Sep 11, 2019 07:10 AM | Updated: Sep 11, 2019 00:06 AM

Bemetara

बारिश के कारण दीवार गिरने से वृद्धा दब गई, जिससे उसकी मौत हो गई। इसके बाद भी नगर पंचायत और प्रशासन के जिम्मेदार अधिकारियों ने उसकी कोई सुध नहीं ली है।

बेमेतरा/थानखम्हरिया . बारिश के कारण दीवार गिरने से वृद्धा दब गई, जिससे उसकी मौत हो गई। इसके बाद भी नगर पंचायत और प्रशासन के जिम्मेदार अधिकारियों ने उसकी कोई सुध नहीं ली है। जिले में बारिश के कारण मौत होने की यह पहली घटना है। थान खम्हरिया के वार्ड 15 निवासी रमौतिन वर्मा पति स्व. संत्री वर्मा (80) साल का घर मिट्टी का था। तेज बारिश में घर भरभराकर गिर गया और उसकी मौत हो गई। घटना 8-9 सितंबर की दरम्यानी रात की है। रमौतिन वर्मा अपने बेटी सरस्वती के साथ रहती थी। बेटी का प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मकान बन रहा था, जिससे कच्चे घर में वृद्धा, उसका दामाद राजेश और बेटी सरस्वती रहते थे। घटना में दामाद राजेश वर्मा के पैर में चोट पहुंची है। उनका इलाज चल रहा है।

सीएमओ ने कहा-ऐसा कुछ नहीं हुआ
नगर पंचायत सीएमओ लालजी चंद्रवंशी से नगर पंचायत में हुई घटना के बारे में पूछा गया तो उन्होंने दो टूक कहा कि ऐसी कोई घटना नहीं हुई है। साथ ही पीएम आवास के बारे में कहा कि कार्यालयीन अवधि में ही जानकारी दे पाएंगे। पार्षद प्रतिनिधि धसिया निषाद ने बताया कि दीवार गिरने से वृद्धा की मौत हुई है। उनका सोमवार को अंतिम संस्कार किया गया। विवेचना के लिए पुलिस की टीम पहुंची थी।

पुलिस ने कहा-दीवार गिरने से हुई मौत
थाना प्रभारी थानखम्हरिया जितेन्द्र बंजारे ने बताया कि वार्ड 15 निवासी रमौतिन वर्मा की मौत पुराने घर के मिट्टी की दीवार गिरने से दबने से हुई। मर्ग कायम कर विवेचना की जा रही है। पुलिस ने पोस्टमार्टम भी कराया है। तहसीलदार उमा राज से संपर्क करने का प्रयास किया गया, लेकिन उनका फोन बंद मिला।

थान खम्हरिया में आवास की स्थिति
थानखम्हरिया के लिए 686 आवास की स्वीकृति मिली है। इस साल 280 आवास को पूर्ण किया जाना है। अब तक तय लक्ष्य में से 130 आवास पूर्ण कर लिए गए हैं। वहीं 122 आवासों का निर्माण किया जा रहा है। इसके आलावा 298 का निर्माण शुरू नहीं हो पाया है।