स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

12 किमी लंबी लिंक रोड के दोनों ओर की 8-8 मीटर जमीन का किया जाएगा अधिग्रहण

Laxmi Narayan Dewangan

Publish: Nov 11, 2019 07:10 AM | Updated: Nov 10, 2019 23:51 PM

Bemetara

नेशनल हाइवे पर यातायात का दबाव कम करने व शहर में भारी वाहनों को प्रवेश से दूर रखने ग्राम चोरभट्ठी से लोलेसरा चौक तक 12 किलोमीटर लंबी लिंक रोड का निर्माण होगा।

बेमेतरा. नेशनल हाइवे पर यातायात का दबाव कम करने व शहर में भारी वाहनों को प्रवेश से दूर रखने ग्राम चोरभट्ठी से लोलेसरा चौक तक 12 किलोमीटर लंबी लिंक रोड का निर्माण होगा। 19 करोड़ 88 लाख की लागत से बनने वाली रोड के लिए गांवों की जमीन अधिग्रहित की जाएगी। करीब 8 गांव के जमीन दायरे में आएगी। इसके लिए कवायद शुरू की जा रही है।

लोलेसरा, ढोलिया, बिलई, भोइनाभाठा, पिपरभट्ठा, चोरभट्ठी के बीच बनेगी लिंक रोड
बेमेतरा-सिमगा नेशनल हाइवे पर जिला मुख्यालय से 8 किलोमीटर दूर ग्राम चोरभट्ठी से लेकर बेमेतरा-कवर्धा मार्ग पर ग्राम लोलेसरा तक लिंक रोड बनाई जाएगी। स्वीकृत मार्ग के निर्माण के लिए वर्तमान रास्ते के मध्य से सड़क के दोनों छोर पर 8-8 मीटर दोनों तरफ की जमीन की जरूरत होगी। जमीन अधिग्रहित करने हल्का पटवारी व राजस्व अधिकारियों की उपस्थिती में स्थल चिन्हाकन किया जाएगा। तय सड़क के लिए ग्राम लोलेसरा, ढोलिया, चारभाठा बिलाई, खपरी भोईनाभाठा, पिपरभट्ठा, सोनभट्ठा व चेारभटठी की भूमि प्रभावित होगी। इसके बाद चिन्हांकित जमीन का मुआवजा प्रकरण किया जाएगा।

भूमिपूजन के बाद प्रक्रिया में प्रगति
जिला मुख्यालय के लिए पूर्व एक बायपास एनएच पर पारित किया गया था, जिसके विवादस्पद होने के बाद जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया अधर में लटका हुई है। जिससे शहर में यातायात का दबाव बना हुआ है। अब लिंक रोड बनाने की स्वीकृति दी गई है, जिसके बाद 14 अक्टूबर को चेारभटठी से लोलेसरा तक के लिए प्रस्तावित लिंक रोड के लिए भूमिपूजन करने के बाद प्रक्रिया में प्रगति नजर आ रही है।

बाजार दर से चार गुना अधिक दर पर मिलेगा मुआवजा
चेारभटठी से लोलेसरा बायपास रोड की लंबाई लगभग 12 किलोमीटर और लागत 19 करोड़ 88 लाख 75 हजार रुपए हैं। इसके निर्माण होने से बेमेतरा शहर में ट्रैफिक का दबाव कम होगा। जिला मुख्यालय बेमेतरा को जिले के अनुरूप सभी प्रकार की सुविधाएं मुहैया होने में मददगार साबित होगा। प्रभावित गांवों की चिन्हांकित जमीन के लिए नए आदेश के तहत बाजार दर से 4 गुना मुआवजा राशि प्रदान की जाएगी। इसके लिए प्रक्रिया पूर्ण की जाएगी। लोक निर्माण विभाग बेमेतरा के एसडीओ दलगंजन साय ने कहा कि लिंक रोड के लिए प्रस्तावित मार्ग के दायरे में आने वाली जमीन के सीमांकन के लिए तहसीलदार को पत्र लिखा गया है, जिसकी प्रक्रिया पूर्ण कराने के बाद आगे की कार्यवाही की जाएगी।

एक बायपास जिस पर लगा है ग्रहण
नेशनल हाइवे 30 पर बायपास निर्माण को लेकर संशय की स्थिति बरकरार है। नेशनल हाइवे की विकास योजना के तहत नवागढ़ तिगड्डा से अशोका विहार के मध्य बायपास स्वीकृत किया गया था, जिसमें केन्द्र शासन ने भूअर्जन की प्रक्रिया शुरू करते हुए प्रभावितों के लिए 126 करोड़ की स्वीकृति दी थी। प्रथम किस्त के तौर पर 35 करोड़ रुपए केंद्र शासन ने प्रभावितों के लिए अर्जन अधिकारी को जारी किए थे। इसमें से 14 करोड़ का भुगतान किया गया। विवाद के कारण व अधिक दर पर मुआवजा वितरण की आपत्ति के बाद केन्द्रीय भूतल एवं परिवाहन विभाग ने आवार्ड परित करने के बाद भी रोक लगा दी। इसके बाद से जिला मुख्यालय में बनने वाले बायपास के लिए आज डेढ़ वर्ष से स्थिति तय नहीं हो पाई है। मामले में दो वर्ष से नेशनल हाइवे अथारिटी से बायपास को लेकर किसी प्रकार का दिशा निर्देश जारी नहीं किया गया है। साथ ही मुआवजा वितरण पर भी रोक लगा दी गई है। जिससे इस बायपास पर लबे अर्से से ग्रहण लगा हुआ है।

[MORE_ADVERTISE1]