स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

शिक्षकों की कमी से नाराज विद्यार्थियों ने स्कूल के गेट पर जड़ा ताला, प्रदर्शन देख दौड़ते पहुंचे SDM

Dakshi Sahu

Publish: Sep 11, 2019 15:41 PM | Updated: Sep 11, 2019 15:41 PM

Bemetara

बेरला ब्लाक के आनंदगांव हाईस्कूल के छात्र छात्राओं ने स्कूल में बुधवार को ताला जड़कर जोरदार प्रदर्शन किया।

बेमेतरा. बेरला ब्लाक के आनंदगांव हाईस्कूल के छात्र छात्राओं ने स्कूल में बुधवार को ताला जड़कर जोरदार प्रदर्शन किया। स्कूल में शिक्षकों की कमी और समस्याओं के निराकरण की मांग करते हुए शिक्षा विभाग के अधिकारियों के खिलाफ नारेबाजी की। छात्रों ने बताया कि पिछले दो महीने से वे स्कूल में शिक्षकों की कमी और समस्याओं को दूर करने के लिए आंदोलन कर रहे हैं। बावजूद बच्चों की मांग को दरकिनार करके उन्हें हल्के में लिया जा रहा है। बुधवार को अचानक हाई स्कूल में तालाबंदी की खबर सुनकर प्रशासन के कान खड़े हो गए। बच्चों के आक्रोश को देखते हुए स्वयं बेरला एसडीएम गांव में पहुंचे और मांग पूरी करने का आश्वासन दिया।

Read more: एक ही परिवार के तीन लोग उफनती नदी में बहे, चार दिन बाद झाडिय़ों में फंसा मिला शव ...

दो महीने से कर रहे छात्र आंदोलन
विगत दो माह से स्कूल में शिक्षकों की कमी को लेकर विद्यार्थी आंदोलन कर रहे हैं। आज स्कूल के छात्र-छात्राओं ने तालाबंदी कर अपना आंदोलन तेज करने की धमकी दी तब कहीं जाकर बेरला एसडीएम एवं तहसीलदार स्कूल पहुंचे। अधिकारियों ने बच्चों से कहा कि स्कूल में शिक्षकों की कमी को दूर करते हुए अन्य मांगों के ऊपर विचार किया जाएगा। मांग का समर्थन करते हुए आनंद गांव निवासी अशोक तिवारी हनुमान वैष्णव, अर्शिना कोशले द्वारिका टंडन, ओमार धीवर नें कहा की स्कूल में शिक्षक कभी भी समय पर नहीं आते इससे हमारे बच्चों का शिक्षा का स्तर गिरते जा रहा है।

Read more: इस छात्रा के गाने पर कॉलेज में मचा ऐसा बवाल, सीधे थाने पहुंच गया मामला, पढि़ए क्या है पूरा माजरा ...

आंदोलन का पालकों ने किया समर्थन
स्कूल के विद्यार्थियों की जायज मांग का गांव के पालकों ने भी समर्थन किया। पालकों ने कहा कि सवाल बच्चों के भविष्य का है। इसलिए अधिकारियों को जल्द से जल्द स्कूल में शिक्षकों की कमी को दूर करने की दिशा में बड़ा कदम उठाना चाहिए। लंबे समय से स्कूल में कई तरह की सुविधाओं की मांग बच्चे कर रहे हैं। इनकी ओर भी गंभीरता से ध्यान देने की जरूरत है।