स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

एक के बाद एक जिले के तीन लापरवाह अधिकारियों और दो शिक्षकों पर कृषि मंत्री चौबे ने ढाया कहर

Laxmi Narayan Dewangan

Publish: Sep 13, 2019 07:12 AM | Updated: Sep 13, 2019 00:23 AM

Bemetara

कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने ड्यूटी और कार्यों में लापरवाही करने पर एक के बाद एक तीन अधिकारियों पर कार्रवाई कर दी और दो शिक्षकों को निलंबित कर दिया।

बेमेतरा . जिला स्तरीय बैठक में कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने विभागीय योजनाओं और कार्यक्रमों की समीक्षा की। ड्यूटी और कार्यों में लापरवाही करने पर एक के बाद एक तीन अधिकारियों पर कार्रवाई कर दी और दो शिक्षकों को निलंबित कर दिया।

सहकारिता उपपंजीयक के जवाब से संतुष्ट नहीं हुए मंत्री
बैठक के दौरान कृषि मंत्री ने सहकारिता विभाग के अधिकारियों से धान खरीदी के लिए किसानों के पंजीयन के बारे में जानकारी ली। बैठक में कृषि मंत्री चौबे ने कहा कि किसानों को किसी प्रकार की असुविधा नहीं होनी चाहिए। इस बात का विशेष ध्यान रखा जाए। इस दौरान मंत्री सहकारिता विभाग के उपपंजीयक एसके तिग्गा के जवाब से संतुष्ट नहीं हुआ और उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करने के निर्देश दे दिए।

अनियमितता बरतने पर आरईएस एसडीओ पर कार्रवाई
इसके बाद बेरला के ग्रामीण यांत्रिकी सेवा के अनुविभागीय अधिकारी आरके गंजीर के खिलाफ भी अनियमितता का मामला सामने आया। फिर उनके खिलाफ भी कार्रवाई करने के निर्देश दिए। बैठक में विधायक आशीष छाबड़ा ने उनके विधानसभा क्षेत्र के एक गांव रवेली में सीसी रोड निर्माण में लापरवाही बरतने के संबंध में जानकारी दी।

बैठक में नहीं पहुंची पीएचई की ईई
मंत्री ने पीएचई विभाग की कार्यपालन अभियंता (प्रोजेक्ट) आशालता गुप्ता के बैठक में गैर हाजिर रहने पर उन्हें शोकॉज नोटिस जारी करने के निर्देश कलक्टर को दिए। शिवनाथ नदी के इंटकवेल से बेमेतरा जिले के लगभग 97 गांवों में मीठा पानी सप्लाई किया जा रहा है। बैठक में उनके गैरहाजिर रहने से विभाग की समीक्षा नहीं हो पाई। उन्होंने बैठक में अपना प्रतिनिधि भी नहीं भेजा था।

दो शिक्षकों को किया निलंबित
मंत्री ने छत्तीसगढ़ सिविल सेवा आचरण अधिनियम के उल्लंघन के मामले में दो शिक्षकों को निलंबित कर दिया। एक शिक्षक शासकीय स्कूल मोहरेंगा के आशुतोष पांडे हैं। दूसरे शासकी हाईस्कूल स्कूल आनंदगांव के वीरेंद्र कुमार टंडन हैं। उनका तबादला शासकीय स्कूल बटार में किया गया है। भारमुक्त होने के बाद भी नवीन पदस्थापना स्थल पर कार्यभार ग्रहण नहीं किया गया। उनकी ओर से विद्यार्थियों को बरगलाने एवं आनंदगांव स्कूल में तालाबंदी करने का आरोप है।

वन अधिकारी के नहीं आने पर नाराजगी
कृषि मंत्री ने वन विभाग के किसी जिम्मेदार अधिकारी के उपस्थित नहीं रहने पर अपनी नाराजगी जाहिर की। इस अवसर पर विधायक नवागढ़ गुरुदयाल सिंह बंजारे, जिला पंचायत अध्यक्ष कविता साहू, कलक्टर शिखा राजपूत तिवारी, पुलिस अधीक्षक प्रशांत ठाकुर, जिला पंचायत के सीईओ प्रकाश कुमार सर्वे उपस्थित थे।