स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पति की मौत के बाद इस महिला को पांच साल से सता रहा अधिकारी

Laxmi Narayan Dewangan

Publish: Sep 19, 2019 07:12 AM | Updated: Sep 19, 2019 00:16 AM

Bemetara

अपने दिवंगत पति के हक की संपत्ति के बंटवारे का फैसला न्यायालय से मिलने के बाद भी वृद्ध निराश्रित को कब्जा नहीं मिल रहा है।

बेमेतरा . अपने दिवंगत पति के हक की संपत्ति के बंटवारे का फैसला न्यायालय से मिलने के बाद भी वृद्ध निराश्रित को कब्जा नहीं मिल रहा है। पीठासीन अधिकारी द्वारा आज कल कह कर कब्जा दिलाने के नाम पर आश्वासन दिया जा रहा है। जिससे दुखी वृद्धा ने 30 सितम्बर तक कब्जा नहीं दिलाने की स्थिति में 2 अक्टूबर गांधी जयंती के दिन से ही भूख हड़ताल पर बैठने कलक्टर और एसपी को ज्ञापन सौपा है।

पति के हक की जमीन पाने कई साल से कर रही संघर्ष
बताना होगा कि कुर्मी पारा बेमेतरा निवासी कौशिल्या बाई पिता केजउ वर्मा (56) ग्राम केवांछी में ससुराल गई हुई थी। जिनके पति की मृत्यु के बाद वह अपने मायके में रहने लगी। उन्होंने अपने पति के हक की जमीन का बंटवारा पाने के लिए कई साल तक संघर्ष किया और न्यायालय में परिवाद पेश किया था।

न्यायालय ने 2014 में जमीन का बंटवारा देने का सुनाया था फैसला
राजस्व न्यायालय ने 2014 में फैसला देते हुए परिवादी कौशिल्या को ग्राम केंवाछी में जमीन का बंटवारा देने फैसला सुनाया था। जिसके बाद से आज तक कौशिल्या को जमीन का कब्जा नहीं दिलाया गया है। वृद्धा कौशिल्या को जिम्मेदार अधिकारी के द्वारा आश्वासन के सिवाय कुछ नहीं मिल रहा है।

कलक्टर व एसपी को दी भूख हड़ताल की चेतावनी
वृद्धा ने 30 सितम्बर तक न्यायालय के फैसले के आधार पर जमीन में कब्जा दिलाने की मांग किया है। कब्जा नहीं दिलाए जाने की स्थिति में 2 अक्टूबर से भूख हड़ताल पर बैठने के लिए कलक्टर शिखा राजपूत तिवारी व एसपी प्रशांत ठाकुर को ज्ञापन सौंपा है।