स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पूर्व मंत्री मंजू वर्मा ने किया सरेंडर, भेजी गई जेल

Prateek Saini

Publish: Nov 20, 2018 16:19 PM | Updated: Nov 20, 2018 16:19 PM

Begusarai

अदालत में वह सलवार सूट और चादर से चेहरा ढंककर पहुंची...

(बेगूसराय): आर्म्स ऐक्ट में फरार चल रहीं पूर्व मंत्री मंजू वर्मा ने पुलिस को चकमा देकर बेगूसराय के मंझौल कोर्ट में सरेंडर कर दिया। इजलास में पहुंचते ही वह बेहोश होकर गिर पड़ीं। इलाज के बाद मंजू को एक दिसंबर तक न्यायिक हिरासत में बेगूसराय जेल भेज दिया गया।

 

पुलिस को चकमा देकर पहुंची कोर्ट

मंजू वर्मा एक गाड़ी से मंझौल कोर्ट के एसीजेएम प्रभात त्रिवेदी की अदालत में मंगलवार को सबेरे करीब साढ़े ग्यारह बजे पहुंची और इजलास में पहुंचते ही वह बेहोश होकर गिर पड़ीं। कोई कुछ करता इससे पहले ही वह उठ खड़ी हुईं। चिकित्सक को बुलाकर उनका चेक अप किया गया।समान्य पाए जाने के बाद उन्हें बेगूसराय जेल भेज दिया गया। आर्मस ऐक्ट में पुलिस उन्हें तलाश करती रही। लेकिन वह मर्जी से अदालत पहुंची। तीन लोगों के साथ कोर्ट पहुंची वर्मा मंझौल अनुमंडल के नौलखा गांव में पति चंद्रशेखर वर्मा की बुआ के यहां छिपी थीं। अदालत में वह सलवार सूट और चादर से चेहरा ढंककर पहुंची।

 

पुलिस करती रही तलाश

पुलिस मंजू वर्मा को चाहकर भी नहीं पकड़ सकी। इनकी तलाश में दूसरे राज्यों में भी पुलिस गई। घर की कुर्की भी की गई। इन सबके बावजूद वह पुलिस की पहुंच से दूर रहीं। पुलिस गिरफ्त से इनके बाहर रहने के चलते सुप्रीम कोर्ट ने भी सरकार और सीबीआई को खूब फटकार लगाई थी।


बता दें पूर्व समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा को पति चंद्रशेखर वर्मा के बालिका गृह कांड के किंगपिन ब्रजेश ठाकुर से रिश्तों के कारण इस्तीफा देना पड़ गया था। मंजू वर्मा को जदयू से भी निलंबित कर दिया गया है।