स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

ग्राम विकास अधिकारी को शिविर से किया रवाना

Narendra Singh Shekhawat

Publish: Sep 19, 2019 05:00 AM | Updated: Sep 19, 2019 02:28 AM

Beawar

महात्मा गांधी ग्रामोत्थान शिविर

ग्राम पंचायत नून्द्री मालदेव में आयोजन, गुस्साए ग्रामीणों ने की स्थानान्तरण की मांग

ब्यावर (अजमेर).

निकटवर्ती ग्राम नून्द्री मालदेव में बुधवार को महात्मा गांधी ग्रामोत्थान शिविर का आयोजन किया गया। इस दौरान ग्रामीणों ने प्रावधान के अनुरुप आवेदकों को पट्टे जारी नहीं किए जाने को लेकर विरोध शुरू कर दिया। विरोध के दौरान गुस्साए लोगों ने ग्राम विकास अधिकारी को बीडीओ की जीप में बैठाकर शिविर स्थल से रवाना कर दिया। ग्रामीणों ने सरपंच को ज्ञापन देकर ग्राम सेवक का स्थानान्तरण करवाने की मांग की है।

ग्राम नून्द्री मालदेव में बुधवार को ग्रामोत्थान शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में 35 पट्टे दिए गए। इस दौरान तीन सौ वर्गगज के पट्टे जारी नहीं किए जाने को लेकर ग्रामीणों ने विरोध शुरू कर दिया। ग्रामीणों का कहना था कि तीन सौ वर्गगज तक के पट्टे दिए जाने का प्रावधान है। इसके बावजूद तीन सौ वर्ग गज का पट्टा जारी नहीं किया जा रहा है। इसके चलते लोगों ने विरोध शुरू कर दिया। ग्रामीणों ने ज्ञापन देकर ग्राम विकास अधिकारी का स्थानान्तरण करने की मांग की। गुस्साए ग्रामीणों ने ग्राम विकास अधिकारी को पंचायत समिति विकास अधिकारी की जीप में बैठा दिया। उन्होंने ग्राम विकास अधिकारी के प्रति रोष जताया। स्थानान्तरण की मांग करने वालों में मोहनसिंह, महेन्द्रसिंह, हेमराज, बाबूसिंह, महेन्द्रसिंह रावत, भगवानसिंह, दयालसिंह व हीरासिंह सहित अन्य शामिल रहे।

इस संबंध में पंचायत समिति जवाजा के विकास अधिकारी डॉ. विजेन्द्र शर्मा ने कहा कि शिविर में ३५ पट्टों का वितरण किया गया। तीन सौ वर्गगज तक पट्टे देेने का प्रावधान है। इसके लिए मकान बना होने एवं एक परिवार के एक ही सदस्य को पट्टे दिए जाने का नियम है। नियमों के तहत पट्टों का वितरण किया। शिविर से निकलने के बाद कुछ लोगों ने विरोध किया। ग्रामीणों की यदि कोई समस्या है तो उसका भी निराकरण किया जाएगा। ग्राम विकास अधिकारी के स्थानान्तरण की मांग की है तो इसकी समुचित जांच करवा दी जाएगी।