स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

college : प्राचार्य कक्ष में धरने पर बैठे छात्र

Sunil Kumar Jain

Publish: Jul 18, 2019 15:13 PM | Updated: Jul 18, 2019 15:13 PM

Beawar

राजकीय एसडी कॉलेज : सीटें बढ़ाने सहित अन्य मांगों को लेकर एनएसयूआई ने किया विरोध प्रकट, पुलिस पहुंची, आश्वासन पर माने विद्यार्थी


पत्रिका न्यूज नेटवर्क
ब्यावर. राजकीय सनातन धर्म महाविद्यालय में सीटें बढ़ाने सहित विभिन्न समस्याओं को लेकर एनएसयूआई ने विरोध प्रकट किया।चार सौ से ज्यादा प्रवेश से वंचित रहे अयर्थियों को लेकर एनएसयूआई ने प्राचार्य कक्ष में धरना दिया और कक्षाओं का आंशिक बहिष्कार भी किया। इस दौरान हंगामा बढ़ता देख सिटी थाना प्रभारी मय पुलिस जाब्ते के पहुंचे और उचित कार्यवाही का आश्वासन देकर मामला शंात कराया।
एनएसयूआई के जिला उपाध्यक्ष धनंजय गौड़ सहित प्रभारी संदीप बंजारा, हेमन्त प्रजापति, प्रभात भाटी, सुरेश सैन, अभिज्ञान सिंगोदिया, हिमांशु खोखर, आनन्द गुर्जर, राकेश रॉयल, प्रकाश पटेल, दिनेश नागौरी, पियूष जैन, सन्नी गोयल, सोहनसिंह रावत, सुनील बेड़ा, किशोर पटेल, सुरेशसिह, सुरेश माली, रूपेश, देव कुमार आदि कॉलेज में एकत्रहुए और प्रथम वर्ष में सेक्शन बढ़ाने, कॉलेज छात्रावास को शुरू करने, परामर्श केन्द्र खुलवाने आदि की मांग की। उन्होंने कॉलेज में चल रही कोटा ओपन की परीक्षाओं को देखते हुए आंशिक ही बंद कराया और छात्रों ने कक्षाओं का बहिस्कार किया। उनका कहना रहा कि हर साल प्रवेश में प्रथम वर्ष की सीटों के अनुपात में आवेदनों की संया अधिक रहती है। इसके चलते हर साल सैकड़ों अयर्थियों का महाविद्यालय में पढऩे का सपना अधूरा रह जाता है। इस साल भी चार सौ से ज्यादा विद्यार्थियों का कॉलेज पढऩे का सपना टूट गया। यहां पर लबे समय से प्रथम वर्ष में सीटे बढ़ाने की मांग चल रही है। प्रथम वर्ष में न तो सीटे बढ़ पा रही है। न ही नए पाठयक्रम शुरु हो पा रहे है। ऐसे में सीटों में बढ़ोतरी की जाने की आवश्यकता है। महाविद्यालय के पास पर्याप्त जमीन है। जहां पर नए भवन का निर्माण कराया जा सकता है। इसी प्रकार नए संकाय खोलने पर भवन की भी व्यवस्था है। ऐसे में नए संकाय खोले जाने पर यहां पर संचालित किए जा सकते है। छात्रों ने कॉलेज प्राचार्य के कक्ष में धरना दिया और विरोध जताया।इस दौरान सिटी थाना प्रभारी रमेन्द्र सिंह व पुलिस जाब्ता भी पहुंच गया।बाद में प्राचार्य ने बताया कि मांगों से कॉलेज आयुक्तालय को अवगत करा दिया है और मांगे मानने का आश्वासन दिया।तब जाकर छात्र शांत हुए। एनएसयूआई के पदाधिकारियों ने कहा कि जल्द ही उनकी मांगों पर उचित कार्यवाही नहीं की गई तो आन्दोलन किया जाएगा।(कासं)