स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

(crime news) इतनी खतरनाक है बिच्छू गैंग, ऐसे करती है शिकार

Tarun Kashyap

Publish: Oct 11, 2019 16:28 PM | Updated: Oct 11, 2019 17:15 PM

Beawar

हाइवे पर लूट की वारदात करने का मामला, एक अन्य को भी पकड़ा, अन्य आरोपितों की पहले हो चुकी है गिरफ्तारी

ब्यावर. सदर थाना पुलिस (police) ने हाइवे (highway)पर लूट की वारदात करने वाली बिच्छू गैंग के सरगना सहित एक अन्य को गिरफ्तार किया। आरोपितों (accused) को न्यायालय में पेश किया। न्यायालय ने आरोपितों को न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया। आरोपितों को बापर्दा रखा गया है। जिनकी शिनाख्त परेड करवाई जाएगी। गैंग के तीन आरोपितों को पुलिस पहले गिरफ्तार कर चुकी है।
पुलिस उपअधीक्षक हीरालाल ने बताया कि गांधीनगर कोटा निवासी चंद्रदीप ने शिकायत देकर बताया कि कम्पनी की राशि लेकर अलवर से ब्यावर आ रहा था। रात करीब एक से डेढ बजे के बीच में उदयपुर रोड बाइपास पर उतरा। यहां से घर जाने के दौरान मोटरसाइकिलों पर सवार होकर आए युवकों ने आंखों पर मिट्टी फैंककर मारपीट की। चाकू दिखाकर सोने की चेन, 70 हजार रुपए नगद, मोबाइल सहित अन्य सामान लेकर भाग गए। पुलिस ने मामला दर्ज किया। इस मामले में मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने दिलीपसिंह उर्फ पिन्टू, विक्रम उर्फ डेविल एवं समीर फकरुद्दीन को गिरफ्तार किया। आरोपितों ने पूछताछ में वारदात करना कबूला। जबकि बिच्छु गैंग का सरगना अंधेरी देवरी निवासी पुखराज उर्फ कालिस एवं विक्रम उर्फ किंग को पकड़ा।

आरोपितों ने हाइवे पर लूट (loot) की वारदात करना कबूला। यह आरोपित बिजयनगर रोड, उदयपुर रोड चुंगी नाका क्षेत्र में रात को घूमते रहते है। यहां पर अकेले राहगीर को देखकर मारपीट कर नगदी व सामान छीन लेते है। गौरतलब है कि पुलिस ने दिलीपसिंह उर्फ पिन्टू, विक्रम उर्फ डेविल एवं समीर फकरुद्दीन को पूर्व में गिरफ्तार किया जा चुका है।
यह वारदातें कबूली
आरोपितों ने पूछताछ में उदयपुर रोड चुंगी नाका पर वाहन चालक के साथ मारपीट कर नगदी छीनने, संेदडा थाना क्षेत्र से जनरेटर चोरी करना एवं रायपुर थाना क्षेत्र से रात्रि के समय एक राहगीर से 17 हजार रुपए लूटने की वारदात करना कबूला है। सदर थाना पुलिस ने इस मामले में रायपुर थाना पुलिस को सूचित किया है।