स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बच्चे ही राष्ट्रीय धरोहर व भविष्य

Bhagwat Dayal Singh

Publish: Sep 22, 2019 20:38 PM | Updated: Sep 22, 2019 20:38 PM

Beawar


सम्राट दाहिरसेन जयन्ति कार्यक्रम, प्रतिभाओं को किया सम्मानित


ब्यावर. सिन्धु सेवा समिति के तत्वावधान में सम्राट दाहिरसेन जयन्ति कार्यक्रम होटल राजमहल, सेन्दड़ा रोड पर हुआ। कार्यक्रम का शुभारम्भ सोनिया छत्तानी ने वन्दे मातरम गीत व हर्षा उत्तमचंदानी गु्रप-हिमांशी, टीशा, लीजा, नेहा, रेशमा, भाविका के गणपति वन्दना तथा अतिथियों के द्वीप-प्रज्जवलन से हुआ। मुख्य अतिथि पूर्व शिक्षा मंत्री व विधायक वासुदेव देवनानी ने बच्चों को परिश्रम करते रहने की सलाह दी। बुुर्जुगों की सेवा सम्मान के साथ उच्च चरित्र निर्माण के लिए आह्वान किया। उन्होनंे कहा कि बच्चें ही राष्ट्रीय धरोहर व देश का भविष्य है। साथ ही स्वच्छता व सिन्धी साहित्य के बारे में भी बताया । विशिष्ट अतिथि सीपी किशनानी ने समाज सेवा करते हुए उच्च जीवन जीने की कला का मंत्र बताया। समिति के अध्यक्ष सुरेश देवानी व कार्यक्रम संयोजक सुरेश हेमनानी ने बताया कि कार्यक्रम में प्रतिभावान18 विशिष्ट व प्रथम स्थान प्राप्त मेघावी विद्यार्थियों को गोल्ड मेडल, 9 द्वितीय स्थान व 9 तृतीय स्थान प्राप्त विद्यार्थियोंं को मोमेन्टो एवं प्रशस्ति पत्र देकर सम्मान किया गया। समारोह में महिला विंग की अध्यक्षा रितु देवानी की ओर से निर्देशित लघु नाटिका नाइनटी परसेन्ट में रेशमा पुरूसवानी, नेहा कृपलानी तथा नृत्य में प्रिया शिवानी गु्रप-मीनाक्षी लोहानी, केटरीना साधवानी, प्रियांषी दासानी, पायल देवनानी, वर्षा खटनानी, तथा वर्षा डुलानी गु्रप में एकलव्य डोलानी, महक लालवानी, रोशनी सोनी, डिम्पल लौंगानी, राखी सोनी, काजल लालवानी ने प्रस्तुतियां दी। राजेश गिदवानी ने सम्राट दाहिरसेन की जीवनी पर प्रकाश डाला। संचालन महिला विंग अध्यक्षा रितु देवानी तथा संस्था के उपाध्यक्ष दयाल आसवानी की ओर से किया गया। संस्था का प्रगति विवरण संस्था के सचिव गोपाल मंघानी ने प्रस्तुत किया। अन्त में सपना मंघनानी ने राष्ट्रगान प्रस्तुत किया।
कार्यक्रम में समिति के संरक्षक बाबूमल गंगवानी, संत शम्भूलाल साईं, हरिओम सत्संग दादी गंगा कृपलानी, रमेश गंगवानी, लक्ष्मणदास हरवानी, चन्द्रप्रकाष पारवानी, शंकर जुरानी, हरगुन लालवानी, डॉ. प्रेमनारायण तोलानी, डा. नरेन्द्र आनन्दानी, प्रदीप कृपलानी, नरेष मदानी, राजेष गिदवानी, चन्द्र केसवानी, अशोक गुरबानी, भागचंद जेसवानी, प्रकाश वसंदानी, पुरूषोत्तम उत्तमचंदानी, श्रीधर फुलवानी, नरेन्द्र गोकलानी, दयाल प्रियानी, सुन्दर वासवानी, महिला विंग से ज्योति कृपलानी, चन्द्रा पारवानी, सन्तोष तोलानी, भारती आनन्दानी, पुष्पा गंगवानी, शालिनी गंगवानी, रेणु जुरानी, चित्रा-कोमल फुलवानी, गुन्जन गिदवानी आदि उपस्थित रह्वहे।