स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

कलश यात्रा से भागवत का आगाज

Tarun Kashyap

Publish: Sep 21, 2019 19:37 PM | Updated: Sep 21, 2019 19:37 PM

Beawar

कलश यात्रा से भागवत का आगाज


ब्यावर. रामद्वारा में श्रीमद् भागवत कथा का आगाज कलश यात्रा से हुआ। मोती नगर स्थित शिव मंदिर से भागवत शोभायात्रा पूजन करके 51 कलशो के साथ ढोल नगाड़ों के साथ कलश यात्रा निकाली गई। मोती नगर के विभिन्न मार्गो से होते हुए राम द्वारा कथा स्थल पहुंची। कई जगह लोगों ने कलश यात्रा का फूलों की वर्षा कर स्वागत किया गया। महाराज ने प्रथम दिन भागवत का महत्व व भक्ति ज्ञान वैराग्य कथा का वर्णन किया। दरियाव रामद्वारा के महंत उदय राम महाराज ने भागवत का पूजन किया और आशीर्वचन दिए। संत सेवालाल महाराज ने भजन श्रवण कराया। कथा के पहले दिन संत गोपाल राम महाराज ने कहा कि श्रीमद् भागवत कथा की सार्थकता तब सिद्ध होती है जब उसे व्यक्ति सुनने के बाद जीवन में उतारता है। निरंतर हरि स्मरण से जीवन आनंदमय हो जाता है। वास्तव में भागवत कथा से मन का शुद्धिकरण होता है। मूल सिंह, रामप्रसाद दिवाकर, नौरत जांगिड ने भागवत पूजन करके आरती उतारी। उदयराम महाराज ने बताया कि श्रीमद् भागवत सप्ताह कथा 21 से 27 सितंबर तक रोजाना बजे से पांच बजे तक होगी।