स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बताए शराब व तम्बाकू के दुष्परिणाम

Sunil Kumar Jain

Publish: Sep 11, 2019 16:52 PM | Updated: Sep 11, 2019 16:52 PM

Beawar

बताए शराब व तम्बाकू के दुष्परिणाम


ब्यावर. तालुका विधिक सेवा समिति के तत्वावधान में नशा मुक्ति केन्द्र, प्रताप नगर में विधिक साक्षरता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। मध्यस्थ एवं सदस्य टीकमचन्द गोठरीवाल ने शराब, तंबाकू के सेवन से होने वाले घातक दुष्परिणामों के बारे में बताते हुए कहा कि तंबाकू व धूम्रपान सेवन मस्तिष्कघात, फेफडों का केंसर, हृदयघात, गले का केंसर व हड्डियों का गलना जैसी प्राणघातक बीमारियों का मुख्य कारण है। मद्यपान व धूम्रपान करने वाला व्यक्ति खुद को नशे के चलते बर्बाद तो करता ही है, साथ ही उसके साथ रहने वाले और आसपास के लोग भी बहुत अधिक प्रभावित होते है। तंबाकू व धूम्रपान का सेवन मानव जीवन के लिए बड़ा अभिशाप है। सार्वजनिक स्थानों पर तंबाकू व धूम्रपान करने पर जुर्माने का प्रावधान है। नशा अल्प समय के लिए खुशी और आनंद दे सकता है लेकिन वही नशा कालान्तर में व्यक्ति के जीवन के अंत का कारण भी बनता है। नशे का आदी व्यक्ति दृढ़इच्छा शक्ति कर इसे छोड़ सकता है। सभी जिला अस्पतालों में तम्बाकू उपचार व परामर्श सेवाऐं उपलब्ध है। उपस्थित लोगों ने नशा न करने का संकल्प लिया। संचालक निर्मल जांगिड ने आभार जताया।