स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

सनातन धर्म राजकीय महाविद्यालय में सीधा होगा मुकाबला

Sunil Kumar Jain

Publish: Aug 22, 2019 21:25 PM | Updated: Aug 22, 2019 21:25 PM

Beawar

सनातन धर्म राजकीय महाविद्यालय में सीधा होगा मुकाबला

-छात्रसंघ चुनाव, नामांकन दाखिल करवाने के दौरान रही गहमागहमी, एबीवीपी एवं एनएसयूआई मैदान में-कक्षा प्रतिनिधियों में ४३ ग्रुप में ही नामांकन, ६९ रहे खाली

 

ब्यावर. सनातन धर्म राजकीय महाविद्यालय में छात्रसंघ चुनाव में सीधा मुकाबला होगा। हालांकि गुरुवार को नामवापसी के बाद तस्वीर साफ होगी। महाविद्यालय में एबीवीपी एवं एनएसयूआई के प्रतिनिधि नामांकन दाखिल करने पहुंचे। अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, महासचिव व संयुक्त सचिव चारों ही पदों पर सीधा मुकाबला है। प्राचार्य पुखराज देपाल, चुनाव अधिकारी सुप्रतीक पाठक एवं सदस्य जलालुद्दीन काठात ने बताया कि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद एवं भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन नामांकन दाखिल करने पहुंचे। अध्यक्ष पद के लिए अनुप्रिया चौधरी व पुष्पेन्द्र साहू ने, उपाध्यक्ष पद पर विनोदसिंह रावत व सुनिल तेली, महासचिव पद पर दीपक वैष्णव व सूर्यप्रकाश जोशी एवं संयुक्त सचिव पद पर कमलेश बक्सानी एवं राकेश मेघवाल ने नामांकन दाखिल किए। नामांकन दाखिल करवाने के दौरान समिति संयोजक डॉ. बिन्दु तिवारी, सहसंयोजक नरेन्द्रकुमार वैष्णव सहित अन्य उपस्थित रहे। चार समूह में चुनाव, २९ निर्विरोध व ६९ रहे रिक्तसनातन धर्म राजकीय महाविद्यालय में कुल ११२ समूह बने। इसमें कक्षा प्रतिनिधि चुने जाने है। कक्षा प्रतिनिधि चुनाव को लेकर विद्यार्थियों में उत्साह नजर नहीं आया। ग्रुप संख्या ११, २४, २५ व ७९ में ही एक से अधिक ने नामांकन दाखिल किए। एेसे में चार समूह में ही चुनाव होंगे। हालांकि इसकी तस्वीर भी शुक्रवार को नाम वापसी के बाद होगी। जबकि ६९ समूह में किसी ने नामांकन ही दाखिल नहीं किए। यह समूह रिक्त रह गए।

नाम वापसी

सनातन धर्म राजकीय महाविद्यालय में नामांकन जांच करने के बाद सूची चस्पा कर दी गई। शुक्रवार को नाम वापसी होगी। नाम वापसी ११ से दो बजे तक होगी। इसके बाद उम्मीदवारों की अंतिम सूची का प्रकाशन होगा। नाम वापसी एवं अंतिम सूची प्रकाशन के लिए समिति का गठन कर जिम्मेदारी सौपी गई है।

अस्थाई पुलिस चौकी

महाविद्यालय में चुनाव को देखते हुए अस्थाई पुलिस चौकी रहेगी। ताकि चुनाव के दौरान आवश्यकता होने पर पुलिस जल्द पहुंच सके। इस व्यवस्था को लेकर शहर थानाधिकारी रमेन्द्रसिंह ने प्राचार्य पुखराज देपाल से मिलकर चर्चा की।