स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

यूपी में सामने आया हैरतअंगेज मामला, रातों रात सड़क ही चोरी हो गयी, लहलहाने लगी धान की फसल

Mohd Rafatuddin Faridi

Publish: Aug 05, 2019 13:04 PM | Updated: Aug 05, 2019 13:04 PM

Basti

क्षेत्र के लोगों का आना-जाना पूरी तरह से हुआ बंद।

बस्ती थानाक्षेत्र के बढ़नी गांव को जोड़ती थी सड़क।

प्रधान ने माना बनी थी सड़क, पर चोरी कैसे हुई इस पर खामोश।

पीड़ित का कहना दबंगों ने की पिटायी, पुलिस के यहां नहीं हुई सुनवायी।

एसडीएम ने माना संज्ञान में है मामला, जांच कराकर करेंगे कार्रवाई।

बस्ती . यूपी के बस्ती जिले में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां के एक गांव में रात के अंधेर में पूरी की पूरी सड़क ही चोरी हो गयी। यह सड़क बस्ती थानाक्षेत्र के बढ़नी गांव को जोड़ती थी। रातों रात सड़क चोरी हो गयी और सुबह वहां धान की फसल लहलहा रही थी। इसकी वजह से लोगों का निकलना बंद हो गया है। चूंकि सड़क रही नहीं, इसलिये लोगों का आना-जाना पूरी तरह से बंद है।

 

एक तरफ जहां यूपी की योगी सरकार हर गांव और मोहल्ले तक को कस्बे और शहर की सड़कों से जोड़ने की मंशा जाहिर कर चुकी है। सरकार का दावा है कि इसपर लगातार काम भी चल रहा है। पर बस्ती में जो मामला सामने आया है वह सरकार की मंशा पर पानी फेरने वाला है।

 

Road Theft in Basti

 

जानकारी के मुताबिक आरोप है कि बस्ती जिले के नगर थानक्षेत्र के बढ़नी गांव को जोड़ने वाली खड़ंजा सड़क ही उस पार के लोगों के लिये आने-जाने का रास्ता है। आरोप है कि रातों रात गांव के दबंग प्रभाकान्त मिश्रा और उनके साथियों ने ट्रैक्टर से खड़ंजा उखाड़ दिया। इसके बाद रातों रात ही वहां मिट्टी बराबर कर उसे खेत का रूप देकर वहां धान की फसल रोप दी गयी। जब लोग सुबह सोकर उठे और रास्ते पर निकले तो आगे का रास्ता ही गायब था। जहां रास्ता बना था वहां तो धान की फसल लहलहा रही थी।

 

Road Theft in Basti

 

इसके खिलाफ खुद को पीड़ित बताने वाले रामवृक्ष नाम के व्यक्ति का दावा है कि उसने नगर थाने पर इसकी शिकायत की, लेकिन उसे न्याय नहीं मिला। वहां से न्याय नहीं मिला तो पीड़ित एसडीएम और जिलाधिकारी से मिलकर शिकायत की और न्याय मांगा। बावजूद इसके अब तक मौके पर कोई जांच अधिकारी नहीं पहुंचा। सड़क चोरी कर खेत बना दिये जाने से लोगों का वहां से आना-जाना पूरी तरह से बंद है। गांव के प्रधान राकेश मिश्रा यह तो स्वीकार करते हैं कि खड़ंजा लगाया गया था, लेकिन खड़ंजा आखिर क्यों उखाड़ फेंका गया इस पर प्रधान बिल्कुल खामोश हैं। वहीं पीड़ित की शिकायत है कि पहले आरोपी दबंगों ने उसे मारापीटा भी, जिसकी शिाकयत थाने पर करने क बावजूद कोई सुनवायी नहीं हुई। अब मनबढ़ों ने सड़क ही उखाड़ दी, जिससे लोगों का घरों से निकलना मुश्किल हो गया है। इस मामले में एसडीएम जगदम्बा सिंह ने भी माना कि मामला संज्ञान में आया है और जांच कराकर दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा है कि जल्द ही प्रकरण को सुलझा लिया जाएगा।

By Satish Srivastava