स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

महर्षि वशिष्ठ मेडिकल कॉलेज में एडमिट फाइल बनाने के नाम पर ली जा रही रिश्वत, वीडियो वायरल

Akhilesh Kumar Tripathi

Publish: Jul 09, 2019 18:19 PM | Updated: Jul 09, 2019 18:19 PM

Basti

मामला सामने आने के बाद आरोपी को निलंबित कर दिया गया है।

बस्ती. प्रदेश की योगी सरकार सूबे की स्वास्थ्य विभाग को लेकर भले ही गंभीर हो, मगर इस विभाग में भ्रष्टाचार कम होता दिख नहीं रहा है । बस्ती जनपद के महर्षि वशिष्ठ मेडिकल कॉलेज में मरीजों के एडमिट फ़ाइल बनवाने में रिश्वत लेते हुए वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें प्रत्येक मरीज से इमरजेंसी में भर्ती करने के लिए 100 से लेकर 200 से रुपये लिए जा रहे हैं। वहीं मामला सामने आने के बाद आरोपी को निलंबित कर दिया गया है।

 

यह भी पढ़ें:

यूपी के बस्ती में डॉक्टरों की भारी कमी, 110 बेड पर सिर्फ एक डॉक्टर कर रहा इलाज

 

आरोप है कि इमरजेंसी में नाइट ड्यूटी के दौरान टीएनएम संस्था के फार्मासिस्ट रजनीश जायसवाल मेडिकल कॉलेज में मरीजों से बीएसटी भरने के नाम पर सुविधा शुल्क की वसूली कर रहे थे। एक मरीज ने चुपके से इसका वीडियो बनाया और सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। वीडियो वायरल होते ही खलबली मच गई।

 

यह भी पढ़ें:

बुखार और अकड़न के बाद बच्ची की मौत, दो और बच्चे बीमार, चमकी जैसे बुखार की आशंका से सहमे लोग

 

 

इस संबंध में कमिश्नर अनिल सागर ने बताया कि महर्षि वशिष्ठ मेडिकल कॉलेज में तैनात संविदा फार्मासिस्ट रजनीश जायसवाल की घूसखोरी के आरोप में सेवा समाप्त कर दी गई। मेडिकल कालेज के प्राचार्य की इस कार्रवाई से हड़कंप मच गया है।

 

BY- SATISH SRIVASTAVA

 

यहां देखें वीडियो