स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

शिवलिंगों को किया खंडित, दो को उखाड़कर फेंका, ग्रामीणों में आक्रोश

Kailash Chand Barala

Publish: Sep 21, 2019 19:23 PM | Updated: Sep 21, 2019 19:23 PM

Bassi

-पुलिस के आला अधिकारी पहुंचे, एफएसएल व डॉग स्क्वायड टीम ने की जांच

-घटना के विरोध में दोपहर तक दिया धरना

शाहपुरा. शाहपुरा पुलिस थाना इलाके के नीमकाथाना-शाहपुरा स्टेट हाईवे पर पंचायत समिति के पास रामेश्वरदास महाराज मंदिर में बीती रात समाजकंटकों ने द्वादश शिवलिंगों को खंडित कर दिया। साथ ही दो शिवलिंगों को उखाड़कर फेंक भी दिया। घटना का पता सुबह लगा जब पुजारी गणपतलाल मंदिर में पूजा करने पहुंचे। मंदिर में शिवलिंग खंडित दिखाई दिए और दो गायब मिले। शिवलिंगों से नाग की प्रतिमा टूटी मिली। पुजारी ने मंदिर में रहने वालों एवं आसपास के ग्रामीणों को सूचना दी। घटना की जानकारी पर बड़ी संख्या में श्रद्धालु एकत्र हो गए। साथ ही छारसाधाम के छबीलेशरण छीतरदासजी महाराज भी पहुंच गए। श्रद्धालुओं व महाराज ने घटना पर नाराजगी जाहिर करते हुए पुलिस से दो दिन में आरोपितों को पकडऩे की मांग की। उन्होंने पुलिस को दो दिन में आरोपितों को नहीं पकड़े जाने पर धरना शुरू करने की भी चेतावनी दी। घटना के विरोध में मंदिर में १ बजे तक धरना जारी रहा। लोगों का आरोप था कि सूचना देने के बाद भी प्रशासनिक अधिकारी देरी से पहुंचे। जिस पर ग्रामीणों ने देरी से पहुंचे अधिकारियों के सामने नाराजगी जाहिर की। इधर, सुबह मौके पर पहुंचे डीएसपी राजेश मलिक, थाना प्रभारी सीएम जाखड़ ने मौका मुआयना किया और जयपुर से डॉग स्क्वायड व एफएसएल टीम बुलाई। दोनों टीमों ने मौके पर पहुंचकर साक्ष्य जुटाए। जानकारी के अनुसार रामेश्वरदासजी मंदिर परिसर में करीब पांच साल पहले द्वादश ज्योतिर्लिंग शिवलिंगों की स्थापना की गई थी। शुक्रवार रात को समाजकंटक उक्त शिवलिंगों के शेषनाग को तोड़ दिए और दो शिवलिंगों को उखाड़कर मंदिर के बाहर सड़क किनारे फेंक दिए।(का.सं.)

-------------

दो शिवलिंगों को उखाड़ कर फेंका समाजकंटक द्वादश ज्योतिर्लिंग शिवलिंगों में से दो शिवलिंगों को उखाड़कर सड़क की तरफ फेंक गए। जो अलग-अलग जगहों पर पड़े मिले। इस संबंध में मंदिर के सुदामादास महाराज ने थाने में मामला दर्ज करवाया है। मंदिर में एकत्र लोगों ने बताया कि शाहपुरा क्षेत्र में मकानों में चोरी, नकबजनी और वाहन चोरी की घटनाए बढ़ रही है। अब समाजकंटक मंदिरों तक भी पहुंचने लगे है। उन्होंने पुलिस से गश्त बढ़ाने के साथ ही चोरी की वारदातों पर भी अंकुश लगाने की मांग की।

-----------

दोपहर तक धरने पर बैठे रहे ग्रामीण व महाराज घटना को लेकर दोपहर 1 बजे तक छीतरदासजी महाराज, भींवादासजी महाराज, सुदामादास के साथ बड़ी संख्या में श्रद्धालु धरने पर बैठे रहे। इस मौके पर चन्द्रभान पलसानिया, पूर्व पालिकाध्यक्ष परमानन्द पलसानिया, प्रहलाद सहाय, पार्षद अर्जुनलाल फोजी, भींवाराम ढबास, रोहिताश कपूरिया, गिरधारी पलसानिया, गोमाराम कारेल, बद्री गठाला, सीताराम पलसानिया, फूलचंद दादरवाल, नन्दराम गठाला, गणपत दादरवाल, लक्ष्मीनारायण दादरवाल, किशन दादरवाल, साधुराम रोलानिया, मालीराम दादरवाल, जयराम भांभू, सुभाष पोषवाल सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालु मौजूद थे। -----------

आरोपितों को नहीं कपड़ा तो होगा धरना शुरू महाराज छीतरदासजी ने कहा कि पुलिस मामले का दो दिन में खुलासा करें दे, नहीं तो सोमवार सुबह 8 बजे से मंदिर परिसर में घटना को लेकर धरना शुरू किया जाएगा। मौके पर पहुंचे डीएसपी राजेश मलिक, तहसीलदार संदीप चौधरी, थाना प्रभारी चौथमल जाखड़ ने कहा कि घटना का मौका निरीक्षण किया है। जांच के लिए एफएसएल व डॉग स्कवायड टीम ने नमूने उठाए है। मामले की जांच की जा रही है। जल्द ही खुलासा किया जाएगा। इस पर छीतरदास महाराज एवं ग्रामीणों ने कहा कि मंदिर में शिवलिंगों को तोडऩा आहत करने वाली घटना है। आरोपित जल्द ही गिरफ्तारी होने चाहिए। पुलिस ने शीघ्र कार्रवाई का आश्वासन दिया।