स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Jaipur rural : पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम के जीवन से सीख लेकर आगे बढ़ें

Satya Prakash

Publish: Oct 19, 2019 19:11 PM | Updated: Oct 19, 2019 19:11 PM

Bassi

बालसभा का आयोजन, बालिका शिक्षा पर दिया जोर

शाहपुरा।

ग्राम हनुतिया के राजकीय वरिष्ठ उपाध्याय संस्कृत विद्यालय में छात्रा रीना यादव की अध्यक्षता में पंचायत मुख्यालय पर बाल सभा आयोजित हुई। जिसमें विद्यार्थियों ने वैज्ञानिक व पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम के जीवन चरित्र पर प्रकाश डाला। वहीं, शिक्षकों ने छात्र-छात्राओं को पूर्व राष्ट्रपति के जीवन से सीख लेकर आगे बढऩे के लिए प्रेरित किया। इस दौरान भारतीय वैज्ञानिकों, उनके आविष्कारों के पोस्टर निर्माण, कथा वाचन, कविता पाठ व अंत्याक्षरी का आयोजन किया गया।

इसी प्रकार माजीपुरा के राजकीय माध्यमिक विद्यालय में बाल सभा का आयोजन आस्था मीणा की अध्यक्षता में किया गया। प्रधानाध्यापिका निर्मला मौर्य, एसएमसी के रघुनाथ प्रसाद जांगिड़, पूर्व सरपंच मदन लाल गठाला, जगदीश प्रसाद यादव, श्याम शरण शर्मा ने पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम की जीवनी पर प्रकाश डालते हुए उनके आदर्शों को जीवन में अपनाने की अपील की।

मैड़ कस्बे की चांदोलिया धर्मशाला में शनिवार को राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय के प्रधानाचार्य रेवड़ राम रेड्डी की अध्यक्षता में बाल सभा हुई। जिसमें बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने, शिक्षा के साथ खेलकूद गतिविधियों को बढ़ावा देने, मन लगाकर पढ़ाई करने के लिए प्रेरित किया।

शिक्षक चंचल प्रकाश चांदोलिया ने कहा कि बालिकाएं आज समाज और देश का नाम रोशन कर रही है। जरूरत है उन्हें शिक्षा व खेलकूद के प्रति प्रोत्साहित करने की। शिक्षक प्रमोद कुमार शर्मा ने बताया कि बालसभा कार्यक्रम बालक -बालिकाओं के लिए शिक्षा के साथ रंगमंच पर आने का सुनहरा अवसर है।विद्यार्थियों को अपनी झिझक छोड़कर शिक्षा, खेलकूद व सांस्कृतिक कार्यक्रमों में बढ़चढ़कर हिस्सा लेना चाहिए।

बालिका माध्यमिक विद्यालय की कार्यवाहक प्रधानाध्यापिका ज्योति पालीवाल ने बालक -बालिकाओं को लक्ष्य निर्धारित कर अध्ययन के लिए प्रेरित किया। शिक्षक हेमराज बैरवा ने अभिभावकों को बच्चों का सरकारी विद्यालयों में नामांकन कराने, व सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ उठाने के लिए प्रेरित किया।

बाल सभा में कस्बे की राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय, राजकीय वरिष्ठ उपाध्याय संस्कृत विद्यालय, राजकीय बालिका माध्यमिक विद्यालय के छात्र-छात्राओं ने देश भक्ति गीत, संस्कृत श्लोक, वाचन, संस्कृत गीत आदि प्रस्तुत किए। निबन्ध प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया। बाल सभा प्रस्तुतियां देने वाले छात्र-छात्राओं को पारितोषिक देकर पुरस्कृत किया।

इस मौके पर संस्कृत विद्यालय के प्रधानाचार्य मोहन लाल बुनकर, शिक्षक प्रभु दयाल सैनी ने भी विचार व्यक्त किये।