स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जयपुर में विराटनगर के 17 चिकित्सा केन्द्रों पर योग की भी मिलेगी सुविधा

Surendra Singh

Publish: Dec 14, 2019 08:49 AM | Updated: Dec 14, 2019 08:49 AM

Bassi

ayushman bharat scheme : गंभीर बीमारियों की होगी स्क्रीनिंग

 

विराटनगर. ब्लॉक के 17 चिकित्सा केन्द्रों का केन्द्र सरकार की आयुष्मान भारत योजना के तहत हेल्थ एवं वैलनेस सेंटर के रूप में विकसित करनें के लिए चयन किया गया है। योजना के तहत ब्लॉक के 11 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र व 6 उप स्वास्थ्य केन्द्रों का चयन किया है। योजना में चयनित चिकित्सा केन्द्रों की कायापलट होने के साथ ही ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को बेहतर चिकित्सा सुविधा मिलेगी। योजना से जुडऩे के बाद इन चिकित्सा केन्द्रों पर मरीजों को पहले से बेहतर चिकित्सा सुविधा मिलने के साथ सामान्य गंभीर बीमारियों की स्क्रीनिंग एवं योगा की सुविधा भी मिल सकेगी। इन चिकित्सा केन्द्रों के अधीन आने वाले गांवों में चिकित्सा कर्मी घर-घर जाकर लोगों की स्क्रीनिंग कर उपचार मुहैया कराएंगे।


हैल्थ ऑफिसर होगा नियुक्त

योजना में चयनित उप स्वास्थ्य केन्द्रों पर यहा कार्यरत एएनएम के अतिरिक्त एक पद कम्यूनिटी हेल्थ ऑफिसर का सृजित किया जाएगा। बीमारियों के बचाव को लेकर यहां लोगों में जागरुकता लाने के लिए कार्यक्रम हेांगे। हमेशा एएनएम कार्यरत रहेगी, डायबिटीज, बीपी, कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों की स्क्रीनिंग की सुविधाएं भी रहेगी ।

भवनों की होगी कायापलट

योजना में चयनित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र एवं उप स्वास्थ्य केंद्रों के भवनों की कायापलट हो सकेगी । सभी चिकित्सा केन्द्रों के भवनों का रंग रोगन करवाया जाएगा। उप स्वास्थ्य केन्द्रों पर एक अतिरिक्त कमरे का निर्माण करवाया जाएगा एवं जर्जर भवनों की मरम्मत करवाई जाएगी। इन केन्द्रों पर नोटिस बोर्ड ,फर्नीचर, बिल्डिंग नेम बोर्ड, आईसीसी बैनर, चिकित्सा विभाग की योजनाओं की गाइड लाइन के बोर्ड भी लगाए जाएंगे।


इन केन्द्रों के फिरेंगे दिन

विराट नगर ब्लॉक के प्रागपुरा, बडनगर, पाछूडाला, बागावास अहिरान, भाबरू, मैड़, बीलवाड़ी, तेवड़ी, बलेसर एवं आमलोदा, आंतेला सहित 11 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र एवं चतरपुरा, जाजेंकला, खेलना,पालड़ी, पापड़ी एवं तुलसीपुरा उप स्वास्थ्य केंद्रों को हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर के रूप में विकसित किया जाएगा।

इनका कहना है

ब्लॉक के 6 उप स्वास्थ्य केंद्र एवं 11 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों का हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर के लिए चयन किया है। चयनित चिकित्सा केन्द्रों पर ग्रामीणों को पहले से बेहतर चिकित्सा सुविधाएं मिलेंगी ।

डॉ. सुनील कुमार सिवोदिया, बीसीएमएचओ, विराटनगर

[MORE_ADVERTISE1]