स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पुलिस को शक था गांव में ही है छात्रा का हत्यारा, 200 मीटर में रखा जांच का दायरा और 24 घंटे में हत्या का खुलासा

Arun Sharma

Publish: Dec 14, 2019 16:59 PM | Updated: Dec 14, 2019 16:59 PM

Bassi

छात्रा के मर्डर का खुलासा

 

जयपुर। चाकसू के बड़ली गांव में 13 साल की पायल की हत्या करने और शव को ठिकाने लगाने के बाद जब पुलिस ने कड़ी से कड़ी जोडऩा शुरू किया तो हत्या का ऐसा राज खुला कि पुलिस अफसरों के भी होश उड़ गए। पुलिस को पहले दिन से ही शक था हत्यारा आस पड़ौस का रहनेवाला है। पुलिस ने जांच इसी पर रखी और 200 मीटर के दायरे में तप्तीश पर फोकस रखा। पुलिस ने पायल के घर के आसपास के हर घर की जांच करवाई और 200 जवान लगा दिए। कड़ी से कड़ी जोड़ते हुए 24 घंटे में अपराध की तह तक पहुंच।

पायल की हत्या करनेवाली छात्रा ही निकली
13 साल की पायल की हत्या करने वाली उसी की कक्षा की छात्रा निकली। दो दिन पहले ही कक्षा में परीक्षा के दौरान पेन चोरी को लेकर दोनों सहेलियों में झगड़ा हो गया था। उसी दिन शाम को पायल बहाना बनाकर घर से निकली और सीधे सहेली के घर पहुंची जिससे कक्षा में झगड़ा हुआ था। सहेली के मां—बाप घर पर नहीं थे। दोनों में कहासुनी हुई और बात झगड़े तक पहुंच गई। इसी दौरान सहेली ने सरिए से पायल के सिर पर वार कर दिया। जिससे पायल वही गिर गई और बेहोश हो गई।

पुलिस ने बताया कि छात्रा ने पायल को घसीट कर पीछे चारे के कमरे में ले गई। वहां उसने पायल पर डंडे से वार किए। जिससे उसकी पसलियां टूट गई। इस दौरान पायल की मौत हो गई। देर शाम मां के आने पर छात्रा ने पायल की मौत होने की जानकारी दी। इस पर मां ने घटनाक्रम छिपाने के उद्देश्य से अंधेरे में ही शव को बोरे में डालकर घर के सामने ही स्थित तालाब में फेंक दिया।


इस घटना की महिला ने अपने पति को भी जानकारी नहीं दी। हालांकि वह यह सब ज्यादा देर नहीं छिपा सकी। देर रात करीब दो बजे पति को जगाकर पूरी वारदात के बारे में बताया। इस पर पति ने पुलिस या मृतका के परिवार को सूचना देने के बजाय वारदात छिपाने का प्रयास किया। पति ने अपने परिवार को बचाने के लिए शव को तालाब से निकालकर दूर झाडियों में फेंक दिया।

ऐसे खुली वारदात
पुलिस को प्राथमिक जांच में ही पता चल गया था कि वारदात को अंजाम आस—पास के ही जानकार ने दिया है। इसके चलते पुलिस के करीब 200 जवानों ने आस—पास तलाशी ली तो सोने की बाली और मृतका के कपड़े मिल गए। इसके अलावा वारदात में प्रयुक्त सरिया और डंडा भी पुलिस ने बरामद कर लिया।

इस हत्याकांड में उसका साथ उसके परिवार ने दिया। लेकिन शव ज्यादा दिन तक नहीं छिपाई जा सकी और राज खुल गया। चाकसू पुलिस ने बताया कि पायल घर से खेलने के लिए निकली थी। इसी दौरान पास ही रहने वाली दस साल की एक बच्ची से उसकी कहासुनी हो गई। जिसके बाद पायल ने बच्ची के सिर पर डंडा मार दिया। जवाब में बच्ची ने दांतली से पायल के सिर में मार दी। मौके पर ही पायल की मौत हो गई। बीती रात हत्या करने वाली बच्ची और उसके परिवार के सदस्यों को हिरासत में ले लिया गया है।

[MORE_ADVERTISE1]