स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

डॉक्टर साब ले रहे प्रतिनियुक्ति की मौज, अस्पतालों में मरीजों की रेलमपेल

Kailash Chand Barala

Publish: Sep 20, 2019 15:33 PM | Updated: Sep 20, 2019 15:33 PM

Bassi

-विभागीय आदेश हवा, डेढ़ माह बाद भी पूरी पालना नहीं

आंतेला.
मरीजों की जिन्दगी से जुड़े चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग में प्रतिनियुक्ति के बदले अपनी मनचाही जगहों पर पदस्थापन पाने का खेल विभाग के आदेशों के करीब डेढ़ माह बाद भी बदस्तुर जारी है। पिछले माह के प्रथम सप्ताह में विभाग ने मौसमी बीमारियों के मध्यनजर आदेश जारी कर प्रदेशभर में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को निर्देश दिए थे। उनके यहां इलाके में जो भी चिकित्सक व कर्मचारी प्रतिनियुक्ति पर लगे हुए है। उनकी सूची निदेशालय भेजकर मूल स्थान पर लगाए जाए। लेकिन आश्चर्य के बात यह कि विभागीय आदेशों के ४० दिन बाद भी विराटनगर ब्लॉक के चार चिकित्सकों सहित एक दर्जन कर्मचारी मनचाहे अस्पतालों में जमे है। जबकि इलाके के लोग वायरल व मौसमी बीमारियों की चपेट में है। लेकिन कई जगह चिकित्सकों की कमी से भी चिकित्सा व्यवस्था प्रभावित हो रही है। लेकिन चिकित्सकों के रसूख के आगे प्रतिनियुक्ति के खेल में विभागीय आदेश हवा साबित हो रहे है।
--------
मेलनर्स भरोसे इलाज
कई सरकारी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों के हालात इस कदर है कि डॉक्टर के अभाव में मरीजों का उपचार कार्यरत मेलनर्स के भरोसे है। विराटनगर ब्लॉक के अधीन चार चिकित्सक जयपुर या फिर मनचाही जगहों पर प्रतिनियुक्ति पर लगे हुए है। वहीं करीब छह एएनएम व दो स्टॉफ नर्स सहित एक दर्जन कर्मचारी भी प्रतिनियुक्ति पर मनचाहे स्थान पर डूयूटी दे रहे है। इधर, ग्राम बागावास अहिरान, बीलवाडी, भाबरू पीएचसी ऐसी है जहां पर चिकित्सकों की कमी है। ग्रामीणों को आरोप है कि विराटनगर सीएचसी पर कार्यरत दो चिकित्सक व ग्रामीण क्षेत्र की पीएचसी से दो चिकित्सक, छह एएनएम व ४ कर्मचारी रसूखात के चलते अपनी मनचाही जगहों पर जमे है। जबकि उनके मूल पदस्थापन वाले स्थानों पर आने वाले मरीजों को इसका सीधा नुकसान हो रहा है।
--------
प्रतिनियुक्तियों का खेल
विराटनगर सीएससी पर पदस्थापित डॉ. गीताजंली राठौड़ को २८ जून २०१९ से प्रतिनियक्ति पर अंधता निवारण शाखा जयपुर में लगा रखा है। डॉ. फूरकान जनवरी २०१७ से भाबरू पीएचसी में प्रतिनियुक्ति पर है। आंतेला पीएचसी पर नियुक्त डॉ. अदब अगवानी २७ अगस्त से प्रतिनियुक्ति पर है। डॉ. दयाराम जाट गत अगस्त माह से बागावास अहिरान पीएचसी मे प्रतिनियुक्ति पर है। एएनएम मैरिजो शैफ को १६ जनवरी २०१९ से जयपुर के वार्ड १६-१७ स्थित रंगोली गार्डन अरबन पीएचसी पर प्रतिनियुक्ति पर लगा रखा है। (नि.सं.)
--------
इनका कहना है
विराटनगर ब्लॉक में चिकित्सकों सहित अन्य चिकित्साकर्मियों के रिक्त पदों के कारण चिकित्सा व्यवस्थाएं प्रभावित होती है। प्रतिनियुक्ति पर अन्यत्र कार्यरत चिकित्सकों के संबंध में उच्चाधिकारियों को अवगत कराया जा चुका है। शीघ्र रिक्त पदों पर चिकित्सक लगाकर पद भरने का आश्वासन मिला है।
-------------डॉ.सुनील कुमार सिवोदिया, बीसीएमओ विराटनगर।

विभाग की ओर से गत माह चिकित्सकों की प्रतिनियुक्ति रद्द करने के आदेश जारी हुए थे। यहां पर सभी ब्लॉक स्तर पर काफी प्रतिनियुक्तियां रद्द की गई थी। प्रतिनियुक्ति पर शेष रहे चिकित्सकों को आवश्यक कारणों से सरकार को प्रस्ताव भिजवा कर रोका गया है। रिक्त पदों पर चिकित्सकों की नियुक्ति के प्रयास जारी है।
---------डॉ.नरोत्तम शर्मा, सीएसएचओ, जयपुर