स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बैंक में पैसे जमा करवाने जाएं तो रहे सतर्क ...बैंक में पर्ची भरने की बातें करते हुए शातिर बच्चे पार कर ले गए 4 लाख रुपए

Arun Sharma

Publish: Oct 18, 2019 20:07 PM | Updated: Oct 18, 2019 20:07 PM

Bassi

बैंक में पैसे जमा करवाने जाएं तो रहे सतर्क ...
बैंक में पर्ची भरने की बातें करते हुए शातिर बच्चे पार कर ले गए 4 लाख रुपए

बैंक में पैसे जमा करवाने जाएं तो रहे सतर्क ...
बैंक में पर्ची भरने की बातें करते हुए शातिर बच्चे पार कर ले गए 4 लाख रुपए

कोटपूतली. यहां राजमार्ग पर स्थित स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की शाखा में शुक्रवार सुबह तीन बच्चे एक व्यापारी के मुनीम के पॉलिथीन बैग पर चीरा लगाकर 4 लाख रुपए पार कर ले गए। पहले भी ऐसे मामले सामने आए, लेकिन अभी तक पुलिस खुलासा नहीं कर पाई।
पुलिस के अनुसार पतंजलि चिकित्सालय के निदेशक भूपेंद्र यादव ने रिपोर्ट में बताया है कि उनका मुनीम विनोद सैनी निवासी सूरदास वाली सुबह बैग में चार लाख रुपए रखकर बैंक में जमा कराने गया था। बैग में दो—दो हजार के नोट की दो गड्डियां थी। बैंक में पर्ची भरते समय एक बच्चा उसके पास आया और उसने खुद की पर्ची भरने की कहकर बातों में उलझा लिया। मुनीम ने उसे कुछ देर रुकने को कहा तो बालक वहीं खड़ा हो गया। अपनी पर्ची भरने के बाद वह बालक की पर्ची भरने में व्यस्त हो गया। इसी दौरान बालक मुनीम के हाथ में लटकी थैली पर चीरा लगाकर रुपए पार कर भाग गया। बाद में बैग हल्का लगने पर देखा तो उसमें चीरा लगा हुआ था और इसमे रुपए नहीं थे।

सीसीटीवी में नजर आ रहे तीन बालक
सूचना पर थाना प्रभारी नरेंद्र कुमार, उप निरीक्षक रविंद्र कुमार ने बैंक के सीसीटीवी खंगाले तो उसमें एक बालक मुनीम के साथ खड़ा दिखाई दे रहा है। बालक कैमरे की नजर से बचने के लिए बैंक में दीवार के सहारे दरवाजे के कोने से अंदर घुस रहा है और मुनीम के पास कुछ देर खड़ा रहने के बाद बैग पर चीरा लगा कर रुपए जेब में रखते हुए और वहां से भागता दिखाई दे रहा है। पीछे उसके दो साथी भी जाते हुए दिखाई दे रहे हैं।

https://www.patrika.com/bassi-news/wine-shop-robbrey-in-andhi-jaipur-5223134/
गार्ड सर्तक नहीं
बैंक की यह शाखा यहां की चेस्ट ब्रांच है। संदिग्ध बालक के तेजी से बाहर निकलने के दौरान गार्ड के दरवाजे पर आराम से बैठे होने के फुटेज नजर आ रहे हैं। उसने भागते हुए बालक को रोकने की कोई कोशिश नहीं की। तीनों बालक के बैंक परिसर में घूमने के दौरान भी गार्ड की सर्तकता नजर नहीं आई। चेस्ट ब्रांच होने के बावजूद कैमरों की गुणवत्ता ठीक नहीं है। फुटेज में कोई भी फोटो नजर नहीं आ रही है। थाना प्रभारी ने बैंक शाखा प्रबंधक को इन कैमरों को बदलने को कहा।

सांसी गिरोह के बालक सक्रिय
इससे पहले इस बैंक में बैग से रुपए पार करने की वारदात हो चुकी है। फुटेज में बालकों का हाथ होने की बात सामने आई थी। इसके अलावा एलआईसी की शाखा में भी बैग पार करने के मामले में दो बालक बैग उठाते हुए नजर आए थे। बालकों के बारे में माना जा रहा है कि यह सांसी गिरोह के बालक है। यह गिरोह के बालक मध्यप्रदेश के मंदसौर नीमच की तरफ से आते हैं और वारदात करने के बाद यहां से पार हो जाते है। (नि.सं.)

बैंक में लगे सीसीटीवी कैमरों में आए फुटेज में चेहरे स्पष्ट नहीं आने से पहचान में दिक्कत हो रही है। फुटेज निकलवा कर विशेषज्ञों की सहायता से इनकी पहचान की जाएगी। बैंक के शाखा प्रबंधकों को सुरक्षा प्रबंध पुख्ता करने व गार्डों को सतर्क रह कर संदिग्ध बालकों को नजर रखने को कहा गया है।
नरेन्द्र कुमार, थाना प्रभारी, कोटपूतली
https://m.patrika.com/bassi-news/one-accused-in-police-case-involved-in-crude-oil-theft-case-5214164/
फुटेज को स्पष्ट देखने के लिए मुख्यालय से तकनीकी टीम ने आकर जांच की है। यदि कैमरों में कमी पाई गई तो टीम की रिपोर्ट के आधार पर इनको बदला जाएगा। बैंक में सुरक्षा व्यवस्था को और अधिक मजबूत किया जाएगा।
जितेन्द्र सिंह शेखावत, शाखा प्रबंधक, एसबीआई कोटपूतली