स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अनियंत्रित ट्रक डिवाइडर तोड़ विपरित लेन में कंटेनर से टकराया, ट्रक ड्राइवर व सवार की मौत, दो घायल

Arun Sharma

Publish: Nov 18, 2019 20:50 PM | Updated: Nov 18, 2019 20:50 PM

Bassi

टक्कर इतनी तेज थी कि ट्रक व कंटेनर के उड़े परखच्चे

दिल्ली की ओर जाता ट्रक गाय आने से अनियंत्रित होकर डिवाइडर तोड़ जयपुर की ओर से आते कंटेंनर से टकरा गया

कोटपूतली. जयपुर दिल्ली राजमार्ग पर 220 केवी विद्युत उप केन्द्र के सामने रविवार रात को एक ट्रक के डिवाइडर तोड़कर विपरित लेन पर दूसरे कंटेनर से टक्कर होने से दो जनों की मौत हो गई और दो अन्य घायल हो गए। इनको जयपुर रैफर किया गया है। पुलिस के अनुसार दिल्ली से जयपुर की तरफ जा रहे ट्रक के सामने गाय आने से इसके चालक ने इसे बचाने का प्रयास किया तो ट्रक अनियंत्रित होकर विपरित लेन पर जयपुर की तरफ से आ रहे कंटेनर से टकरा गया। इससे ट्रक का केबिन चकनाचूर हो गया। ट्रक का केबिन देखने में नजर नहीं आ रहा था। इससे इस ट्रक का सहचालक मोहम्मद मुशर्रफ (19) पुत्र फारूख खान निवासी शेरपुर थाना कोतवाली जिला मुज्जफरनगर व सलमान (25) पुत्र जान ऑलम निवासी शेरपुर की मौत हो गई। इसके अलावा आजाद निवासी शेरपुर व कंटेनर में सवार जिलेसिंह निवासी भोजपुरा थाना आंसीद जिला भीलवाड़ा घायल हो गए। इनको उपचार के लिए यहां बीडीएम अस्पताल में भर्ती कराया गया । जहां इनकी तबीयत में सुधार नहीं होने पर इनको जयपुर रैफर कर दिया।

परिजनों को भेजी सूचना
मृतकों में से एक की मौत यहां बीडीएम अस्पताल में व दूसरे की जयपुर अस्पताल में हो गई। इनके शव यहां बीडीएम अस्पताल की मोर्चरी में रखे गए है। इनके परिजनों को सूचना भेजी गई। इनके आने पर पोस्टमार्टम करवाया जाएगा।

सड़क पर कांच फैलने से लगा जाम
ट्रक में खिड़कियों व दरवाजों के उपयोग में आने वाला सीसा भरा हुआ था। ट्रक के अनयिंत्रित होकर पलटने से डिवाइडर पर लोहे की रैलिंग क्षतिग्रसत हो गई। इसमें भरा सीसा टूटकर सड़क पर फैल गया। इससे जयपुर दिल्ली लेन पर एक घण्टे तक जाम लगने से वाहनों की कतार लग गई। सूचना पर एसआई रविन्द्र कुमार ने पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच कर घायलों को एम्बुलेंस से अस्पताल भिजवाया। पुलिस ने क्रेन की सहायता से सड़क पर पलटे ट्रक को हटवा कर जाम खुलवाया और यातायात को सुचारू करवाया। दूर तक वाहनों की कतार होने से करीब दो घण्टे बाद यातायात सामान्य हुआ।

आवार मवेशी हादसे का सबब
जयपुर दिल्ली राजमार्ग पर कई स्थान ऐसे है। जहां बीच सड़क पर आवारा सांडों का जमावड़ा रहता है। राजमार्ग पर आवार साड़ हादसों का सबब बन रहे है। इनके चलते पूर्व में भी कई हादसे हो चुके है। लेकिन इनको हटाने के लिए राजमार्ग प्राधिकरण सहित अन्य जिम्मेदार अधिकारियों की ओर से कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। राजमार्ग पर मवेशियों के सामने वाहनों के आने से कई लोग घायल हो चुके है। इसके अलावा इनकी चपेट में आने से कई वाहन क्षतिग्रस्त हो चुके है। पुलिस ने राजमार्ग प्राधिकरण को पत्र भेजकर राजमार्ग पर बैठे रहने वाले मवेशियों हो हटाने के लिए पत्र भेजे है। लेकिन राजमार्ग प्राधिकरण की ओर से कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। राजमार्ग पर जगह जगह आवारा मवेशियों का जमावड़ा रहता है।

[MORE_ADVERTISE1]