स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

विभाग की नाक के नीचे जलमाफिया सक्रिय, पानी चोरी पकड़ी

Moola Ram Choudhary

Publish: Sep 20, 2019 16:53 PM | Updated: Sep 20, 2019 16:53 PM

Barmer

- जिला प्रशासन की टीम पहुंची, एफआइआर के निर्देश

-जलदाय विभाग के अधिकारी नहीं कर पा रहे कार्रवाई

बाड़मेर. शहर में जलदाय विभाग की नाक के नीचे जलमाफिया पनप गए हैं। अब जिला प्रशासन की संयुक्त कार्यवाही में लगातार अवैध पानी चोरी के मामले सामने आ रहे हैं।

शहर के जोगियों की दड़ी स्कूल के पीछे एक बाड़े में अवैध कनेक्शन से पानी एकत्रित कर महंगे दामों में बेचने का खेल बुधवार शाम पकड़ा गया।

उपखण्ड अधिकारी नीरज मिश्र ने बताया कि अवैध जलमाफिया के खिलाफ लगातार कार्यवाही को अंजाम दे रहे हैं। जोगियों की दड़ी स्कूल के पीछे डूंगराराम के बाड़े में कार्यवाही हुई है। यहां पानी के लिए एक बड़ा टांका बना मिला है। जिससे शहर में टैंकरों से पानी बेचने की बात सामने आई है।

यहां एक टैंकर को जब्त किया। आगे की कार्यवाही के लिए जलदाय विभाग की अधिकारियों को मौके पर बुलाकर जांच के आदेश दिए हैं।

लगातार पैर पसार रहा जलमाफिया

शहर में लंबे समय से जल माफिया सक्रिय है। ऐसी स्थिति में आशंका है कि जलदाय विभाग के अधिकारियों की मिलीभगत के चलते जलमाफिया बड़ी लाइनों से अवैध कनेक्शन लेकर मोटर से पानी खींच रहे है। वहीं शहर की कॉलोनियों में नियमित सप्लाई नहीं पहुंचने से हमेशा शहरवासी बूंद-बूंद के लिए संघर्षरत रहते है।

बाड़मेर में पानी के टैंकरों का जाल

शहर में सैकड़ों टैंकर की आवाजाही रहती हैं। किसी भी समय शहर की सड़कों और गलियों में टैंकर दिख रहे हैं। शहर में टैंकरों की आवाजाही पर कोई सख्ती नहीं है। पूरे 24 घंटे पानी के टैंकर दौड़ते हैं। इससे यातायात बाधित होने के साथ दुर्घटना का खतरा हमेशा मंडराता रहता है।

लेकिन यातायात पुलिस भी टैंकर चालकों की अनेदखी कर रही है। जबकि बड़े वाहनों और टैंकरों के सुबह 8 से रात 9 बजे आवाजाही पर रोक है। लेकिन यहां भी मिलीभगत का अंदेशा नजर आ रहा है।