स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

कार के बोनट पर लटककर जान बचाई, थाने में दर्ज ही नहीं किया मामला...पढ़िए पूरी खबर...

Moola Ram Choudhary

Publish: Sep 19, 2019 14:36 PM | Updated: Sep 19, 2019 15:16 PM

Barmer

- कार के बोनट पर होमगार्ड को दौड़ाया करीब 200 मीटर

बालोतरा. नो पार्किंग में खड़ी एक कार को होमगार्डका जवान हटाने पहुंचा तो कार चालक उसे कुचलने की कोशिश करते भागने लगा। इस दौरान होमगार्ड जवान कार की बोनट पर चढ़ा, लेकिन चालक करीब दो सौ मीटर तक कार दौड़ाता रहा।

Read more : बोनट पर लटकाकर कार दौड़ाता रहा ड्राइवर, युवक चिल्लाता रहा 'बचाओ-बचाओ’, देखें वीडियो

यह पूरा वाकया आसपास दुकानों में लगे सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गया। इसके बाद यातायात पुलिस ने कार जब्त की। प्वाइंट प्रभारी ने पुलिस थाने में रिपोर्ट भी दी, लेकिन रिपोर्ट दर्ज करने के बजाए उन्हें रपट डाल इस्तगासा करने की सलाह दे डाली। इसके बाद यातायातकर्मी पुलिस थाने से लौट आए।

हुआ यों कि मंगलवार दोपहर करीब 12:15 बजे प्रथम रेलवे फाटक के पास एक कार में नो-पार्किंग में सड़क के बीचोंबीच में खड़ी थी। इस पर प्वाइंट प्रभारी नकताराम ने होमगार्ड जवान जगदीश भील को वहां से कार हटाने के लिए कहा।

होमगार्ड जवान ने चालक को यातायात बाधित होने का कहते हुए वहां से कार हटाने का कहा, लेकिन उसने ध्यान नहीं दिया और कार चालक वहां से रवाना होने लगा।

जिस पर होमगार्डजवान ने उसे रोकने का प्रयास किया तो कार चालक होमगार्ड जवान को कुचलने का प्रयास करते हुए कार को भगाने लगा। इस पर होमगार्ड जवान ने सूझबूझ दिखाते हुए कार के बोनट पर चढ़ गया। लोगों ने दौड़ती कार के बोनट पर होमगार्डजवान को देख कार को रुकवाने का प्रयास किया।

एक बाइक सवार युवक ने करीब 200 मीटर दूर बाइक को कार के आगे खड़ा कर रुकवाया, तब जाकर होमगार्ड जवान की जान में जान आई। इसके बाद प्वाइंट प्रभारी व यातायात प्रभारी मौके पर पहुंचे तथा कार को जब्त कर थाने में खड़ा करवा दिया।

मामला दर्ज करने बजाय दी सलाह- सूत्रों के अनुसार कार चालक की ओर से होमगार्ड जवान को कुचलने के प्रयास के घटनाक्रम के बाद यातायात पुलिसकर्मी कार चालक के खिलाफ रिपोर्ट लेकर थाने पहुंचे।

वहां पर उपस्थित पुलिसकर्मी ने मामला दर्ज करने के बजाए सलाह दे डाली कि आपके साथ कुछ हुआ है नहीं मामला दर्ज मत करवाओ। आप यातायात पुलिस के रोजनामचे में रपट डालकर न्यायालय में इस्तगासा पेश कर देना।

मुझे नहीं जानकारी-

मुझे ऐसे कोई घटनाक्रम की जानकारी नहीं है।

- रतनलाल भार्गव, एएसपी बालोतरा