स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

रिफाइनरी मुख्यमंत्री की दूरदर्शी सोच का परिणाम - विधायक

Moola Ram Choudhary

Publish: Dec 06, 2019 21:22 PM | Updated: Dec 06, 2019 21:22 PM

Barmer

- पत्रकार वार्ता में बोले विधायक- मैं राजस्थान पत्रिका का शुक्रगुजार हूं, जिसने असाड़ा गांव के क्रेशरों का वास्तविक मुद्दा उठाया

बालोतरा. पचपदरा में सबसे बड़ी रिफाइनरी व पेट्रो केमिकल कॉम्पलेक्स के एक साथ स्थापित होने से रोजगार के अवसर बढ़ेंगे, साथ ही पचपदरा का नाम विश्व पटल पर विख्यात होगा। पचपदरा में रिफाइनरी की पहल मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की दूरदर्शी सोच का परिणाम है।

भाजपा ने 4 साल तक रिफाइनरी के काम को रोका नहीं होता तो अब तक कार्य लगभग पूरा हो जाता। यह बात विधायक मदन प्रजापत ने डाक बंगले में आयोजित पत्रकार वार्ता में कही। उन्होंने कहा कि रिफाइनरी में बिना भेदभाव हर वर्ग के लोगों को योग्यता के अनुसार काम में भागीदारी मिलें, इसके लिए प्रयास किए जाएंगे। रिफाइनरी में बाहरी कंपनियां स्थानीय लोगों को रोजगार में प्राथमिकता नहीं देकर उन्हें टरका रही है, जिसे किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

जनता के हकों के लिए सड़क पर उतरना पड़ा तो भी उतरेंगे, लेकिन जनता के हकों को दबाया नहीं जाएगा। आम आदमी को मूलभूत सुविधाएं मुहैया करवाना प्रदेश सरकार का मुख्य उद्देश्य है। प्रत्येक गांव-ढ़ाणी को बिजली, सड़क व पानी के साथ आधुनिक सुविधाएं उपलब्ध हों, इसी लक्ष्य को लेकर प्रदेश सरकार प्राथमिकता से कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि निकाय चुनाव में बालोतरा नगर परिषद में कुछ कमियों के कारण कांग्रेस बोर्ड बनाने में असफल जरूर रही, लेकिन मतों का गणित में ज्यादा अंतर नहीं रहा।

विधायक प्रजापत ने मालाणी एक्सप्रेस को बंद करने के निर्णय पर केन्द्रीय कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी पर केन्द्र में कमजोर पकड़ होने का आरोप लगाते हुए कहा कि मालाणी-सिवांची पट्टी में मालाणी एक्सप्रेस के नाम से रेल का संचालन का सौभाग्य की बात है, लेकिन अब दुर्भाग्य है केन्द्र सरकार मालाणी क्षेत्र को नई रेलगाड़ी देने के बजाए चलने वाली रेलगाडिय़ों को बंद कर रही है।

उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार भारत माला राष्ट्रीय राजमार्ग में सड़क निर्माण के लिए अरबों रुपए खर्च कर रही है, तो अवाप्त भूमि मालिकों को उचित मुआवजा देना चाहिए। इसके लिए मुख्यमंत्री से मिलकर चर्चा करुंगा।

ओवरब्रिज निर्माण में कुछ गड़बडिय़ां होने की जानकारी मिली है। इसमें कुछ लोगों को फायदा देने के लिए नक्शे में फेरबदल किए जाने चर्चा है। बालोतरा क्षेत्र के चहुमुखी विकास को लेकर लगातार पूरे प्रयास किए जाएंगे।

विधायक ने जताया राजस्थान पत्रिका का आभार-

असाड़ा गांव में सरकारी जमीन पर नियम विरुद्ध संचालित हो रहे क्रेशरों में भारी अनियमितता बरती जा रही है। सरकारी जमीन पर अतिक्रमण कर क्रेशर की मशीनरी लगाने के बारे में उपखंड अधिकारी से बात भी की, लेकिन वे भी कार्रवाई करने में रुचि नहीं ले रहे हैं।

अवैध खनन व सरकारी जमीनों पर हो रहे अतिक्रमणों की लेकर विधानसभा में भी मुद्दा उठाया था, साथ विभागीय मंत्रियों को भी अवगत करवाया है। विधायक ने बताया कि क्षेत्र के मेवानगर गांव में मुरड़, भीमरलाई व वजावास गांव में जिप्सम का खुलेआम अवैध खनन किया जा रहा है।

[MORE_ADVERTISE1]