स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

सरपंच चाहते तो बन जाती 47 स्कूलों में चारदीवारी

Om Prakash Mali

Publish: Aug 20, 2019 14:09 PM | Updated: Aug 20, 2019 14:09 PM

Barmer

रामसर क्षेत्र के 47 स्कूलों में चारदीवारी नहीं बनने से बरसात में पानी भर जाता है तो अवकाश बाद पशुओं के विचरण से गंदगी। स्कूल संचालकों को अतिक्रमियों से भी आए दिन परेशानी हो रही है। विद्यालयों की चार दीवारी के लिए मनरेगा में प्रस्ताव लेना था लेकिन संबंधित सरपंचों ने इसमें रुचि नहीं ली।

सरपंच चाहते तो बन जाती 47 स्कूलों में चारदीवारी, प्रस्ताव ही नहीं लिया

बाबू सिंह भाटी

रामसर क्षेत्र के 47 स्कूलों में चारदीवारी नहीं बनने से बरसात में पानी भर जाता है तो अवकाश बाद पशुओं के विचरण से गंदगी। स्कूल संचालकों को अतिक्रमियों से भी आए दिन परेशानी हो रही है। विद्यालयों की चार दीवारी के लिए मनरेगा में प्रस्ताव लेना था लेकिन संबंधित सरपंचों ने इसमें रुचि नहीं ली।
पंचायत समिति रामसर क्षेत्र के 264 विद्यालयों में से 47 विद्यालयों में चारदीवारी नहीं है तो 22 विद्यालयों में आधी अधूरी चारदीवारी हैं ।
विद्यालयों में चारदीवारी नहीं होने से छुट्टी के बाद भवन परिसर में पशुओं का विचरण रहता हैं । इससे गंदगी फैलती रहती हैं ।शौचालय, पेयजल टांका व अन्य विद्यालय की सामग्री सुरक्षित नहीं रह पाती हैं। साथ ही पौधारोपण कार्य प्रभावित हो रहा हैं । चारदीवारी के अभाव में कई जगह अतिक्रमण हो रहा है।
नरेगा योजना में निर्माण कराने के हुए थे आदेश
राज्य सरकार ने गत साल चारदीवारी विहीन विद्यालयों में निर्माण कराने के लिए ग्राम पंचायत की ग्राम सभाओं की ओर से नरेगा प्लान में चारदीवारी निर्माण के प्रस्ताव प्राथमिकता से भेजने के निर्देश दिए थे। इसमें कई सरपंचों ने रूचि दिखाई लेकिन 47 ग्राम पंचायतों ने प्रस्ताव नहीं लिए।
पहले होता था सर्व शिक्षा अभियान से निर्माण
5 साल पहले सर्व शिक्षा अभियान के तहत सरकार विद्यालय भवनों एवं चारदीवारी का निर्माण होता था । केन्द्र सरकार की ओर से सर्व शिक्षा अभियान योजना बंद कर देने से यह कार्य अब बंद हो गया है ।
हमारे पास बजट नहीं है
शिक्षा विभाग के पास बजट नहीं है। संबंधित ग्राम पंचायत से प्रस्ताव लेकर जिला शिक्षा अधिकारी को भेजे है।पंचायत समिति से स्वीकृति होने के बाद ग्राम पंचायत के मार्फत निर्माण हो सकेगा।-
पन्नाराम चौधरी एसीबीइओ रामसर
हमें जानकारी में नहीं है। संबंधित अधिकारी सूचित करें। एफएफसी एवं जीपीडीपी के प्लान में लेकर निर्माण करवाएंगे।
.बाबूसिंह राजपुरोहित, खंड विकास अधिकारी रामसर
फैक्ट फाइल
रामसर ब्लॉक में प्राथमिक विद्यालय 181
उच्च प्राथमिक विद्यालय 50
माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक विद्यालय 33
चारदीवारी विहीन विद्यालय 47
अधुरी चारदीवारी वाले विद्यालय 22