स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

प्रकृति को देखने का अच्छा तरीका है हाइकिंग

Om Prakash Mali

Publish: Aug 19, 2019 18:34 PM | Updated: Aug 19, 2019 18:34 PM

Barmer

बाड़मेर. उजास ओपन के स्वतंत्र और ग्रामीण रोवर के साथ पीजी कॉलेज के एयर रोवर ने रविवार को ग्यारह किलोमीटर की हाइक के माध्यम से जल शक्ति का सन्देश दिया।

प्रकृति को देखने का अच्छा तरीका है हाइकिंग
-साइकिल हाइक से रोवर्स पहुंचे हिल्ली स्मृति उद्यान की पहाडिय़ों पर
बाड़मेर. उजास ओपन के स्वतंत्र और ग्रामीण रोवर के साथ पीजी कॉलेज के एयर रोवर ने रविवार को ग्यारह किलोमीटर की हाइक के माध्यम से जल शक्ति का सन्देश दिया।
राजस्थान राज्य भारत स्काउट गाइड के सीओ योगेन्द्र सिंह राठौड़ ने बताया कि उजास के ग्रुप लीडर डॉ. आदर्श किशोर के नेतृत्व में पीजी कॉलेज से जल शक्ति के सन्देश लिखे साइकिल हाइक को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया। रोवर्स ने हिल्ली स्मृति उद्यान तक की यात्रा तय की। हाइक प्रभारी सुरेश कुमार ने बताया हाइकिंग एक मौलिक आउटडोर गतिविधि है जिस पर कई अन्य गतिविधियां आधारित हैं। कई खूबसूरत जगहों पर ज़मीनी मार्ग से होते हुए सिर्फ हाइकिंग द्वारा ही पहुंचा जा सकता है और उत्साही लोग प्रकृति को देखने के लिए इसे सबसे अच्छा तरीका मानते हैं। स्मृति उद्यान में चार किलोमीटर की पैदल हाइक के दौरान रोवर्स ने कैक्टस पार्क, वीयू पॉइंट, वॉचिंग टॉवर, गूगल पार्क का अवलोकन किया।