स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

आरओ प्लांट संचालकों के खिलाफ दर्ज होगी एफआइआर

Mahendra Trivedi

Publish: Sep 17, 2019 20:07 PM | Updated: Sep 17, 2019 20:07 PM

Barmer

-कलक्टर ने कहा, बाड़मेर शहर में जलापूर्तिं की व्यवस्था सुधारें
-अधिकारी खुद करें जलापूर्ति की मॉनिटरिंग, मौके पर जाएं

बाड़मेर. जिला कलक्टर हिमांशु गुप्ता ने बाड़मेर शहर में पेयजल व्यवस्था सुधारने के साथ ही घरेलू कनेक्शन का व्यावसायिक उपयोग करने वाले आरओ प्लांट संचालकों के खिलाफ एफआइआर दर्ज करवाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि जलदाय विभाग के अधिकारी अपनी कार्यशैली में सुधार लाएं। जलापूर्ति में किसी तरह की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

जिला कलक्टर ने सोमवार को साप्ताहिक समीक्षा बैठक में जलदाय विभाग के अधिकारियों से कहा कि शहर के प्रत्येक वार्ड की मॉनिटरिंग करने के साथ विभागीय अधिकारी मौके पर जाएं। जिला कलक्टर गुप्ता ने अधीक्षण अभियंता हेमंत चौधरी एवं अधिशाषी अभियंता हजारीराम को गलत तरीके से पानी की चोरी करने वाले आरओ प्लांट्स के खिलाफ एफ आइआर दर्ज करवाने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि शहर में पानी की समस्या नहीं होनी चाहिए। इसके लिए अतिरिक्त संसाधनों एवं बजट की जरूरत होगी तो उपलब्ध करा दिया जाएगा। प्रभावित इलाकों के लिए विशेष योजना बनाने के साथ उसकी क्रियान्विति सुनिश्चित की जाए।

पत्रिका ने बताई आमजन की पीड़ा, पानी चोरी का किया था खुलासा

शहर में पानी की नियमित आपूर्ति नहीं होने को लेकर पत्रिका ने 9 सितम्बर को प्रकाशित खबर में बताया कि जलदाय विभाग कह रहा है कि 4 दिन तक पानी की आपूर्ति बंद थी। वहीं उपभोक्ता बता रहे हैं कि उनके यहां तो पिछले दस दिन से पानी नहीं आ रहा है।

वहीं शिकायत के बाद भी अधिकारी समाधान नहीं करते हैं। अधिकारी एसी कमरों में बैठे रहते हैं और की-मैन के भरोसे पर शहर की जलापूर्ति चल रही है।

इसी तरह शहर के मोखी नम्बर 8 के पास संचालित आरओ प्लांट में अवैध रूप से घरेलू कनेक्शन लेकर अवैध कनेक्शन का खुलासा किया था। यहां पर एक साथ तीन घरेलू कनेक्शन लिए हुए थे। जिससे आरओ प्लांट संचालित होता हुआ मिला था।