स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मत ले जाओ हमारी मां को, बिलखते रहे छह बच्चे

Mahendra Trivedi

Publish: Sep 20, 2019 12:30 PM | Updated: Sep 20, 2019 12:30 PM

Barmer

बाड़मेर. शिव के ग्राम पंचायत चोचरा के धोलिया स्थित एक ट्यूबवेल पर लाइन नहीं बदलने को लेकर पति-पत्नी में विवाद हो गया। मामला इतना बढ़ा कि गुस्से में पति ने पत्नी के सिर पर पत्थर से वार कर दिया। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। घटना के बाद युवक फरार हो गया।

बाड़मेर. शिव के ग्राम पंचायत चोचरा के धोलिया स्थित एक ट्यूबवेल पर लाइन नहीं बदलने को लेकर पति-पत्नी में विवाद हो गया। मामला इतना बढ़ा कि गुस्से में पति ने पत्नी के सिर पर पत्थर से वार कर दिया। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। घटना के बाद युवक फरार हो गया। आरोपी अपने ससुर के साथ यहां एक ट्यूबवेल पर हिस्सेदारी में काम कर रहा था। घटना की सूचना पर पुलिस ने मौके पर पहुंच शव को कब्जे में लेकर शिव अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया। जहा गुरुवार को पोस्टमार्टम के बाद परिजन को सुपुर्द किया।
थानाधिकारी विक्रम सांदू के अनुसार खींमाराम पुत्र रतनराम भील निवासी मानासर (फलसुण्ड) जैसलमेर ने रिपोर्ट पेश कर बताया कि बुधवार को वह अपने दामाद सांगाराम पुत्र शेराराम भील निवासी उपरला (चौहटन) के साथ मजदूरी के लिए बाहर गया था। शाम को सांगाराम पहले घर आ गया। इस दौरान घर में किसी बात को लेकर उसकी पुत्री शुशिया से विवाद हो गया। इस पर गुस्से में आकर उसके जंवाई ने पत्नी पर पत्थरों से हमला कर दिया। इसकी सूचना पर खीमाराम घटना स्थल पर पहुंचा तो उसकी पुत्री आंगन में बेहोश पड़ी थी। वहीं सिर पर गंभीर चोट से खून बह रहा था। बच्चों को पूछने पर बताया कि उसके पापा ने मां के सिर पर पत्थर से चोट मारी। इससे वह गिर गई, इसके बाद पापा वहां से भाग गए। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू की।
मां के लिए बिलखते रहे बच्चे
पुलिस शव को मोर्चरी ले जाने लगी तो महिला के 6 बच्चे बिलखने लगे। वे अपनी मां को नहीं ले जाने के लिए कह रहे थे। ज्यादा रोने पर गुरुवार सुबह परिवार वाले उन्हें स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाए। यहां दादा व नाना ने उन्हें संभाला। सभी बच्चों की उम्र 10 साल से कम हैं।