स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अलग नाम व मीटर नम्बर से जारी हो रहा बिल, उपभोक्ता परेशान

Moola Ram Choudhary

Publish: Jul 20, 2019 21:03 PM | Updated: Jul 20, 2019 21:03 PM

Barmer

- डिस्कॉम की लापरवाही, सात माह से उपभोक्ता काट रहा चक्कर

समदड़ी. तिरगटी गांव के एक रहवासी घर में विद्युत बिल जिस नम्बर का आ रहा है, वह लगा हुआ ही नहीं है। डिस्कॉम की इस गलती का खामियाजा उपभोक्ता सात माह से भुगत रहा है। डिस्कॉम ( Discom) कार्यालय के कई चक्कर लगाने के बावजूद इसमें सुधार नहीं किया गया। दो बार उपभोक्ता बिल की राशि भी जमा करा चुका है। कानाराम पुत्र सवाराम के नाम से सात माह पूर्व घरेलू विद्युत कनेक्शन (Electrical connection) हुआ इसके बाद डिस्कॉम ने दो बार विद्युत बिल जारी किए गए।

बकाया बिल जमा नहीं करवाने पर विद्युत कनेक्शन काटेगा डिस्कॉम

उपभोक्ता अशिक्षित होने से उसने दो बिल की राशि जमा करवाई। जब उसने बिल किसी पहचान वाले को बताया, तो बिल में मीटर नम्बर अलग आ रहे थे ,जबकि घर के विद्युत मीटर के नम्बर अलग थे । वहीं कानाराम की जगह करनाराम प्रकाशित किया हुआ था। इसे सुधारने को लेकर वह कई बार डिस्कॉम को अवगत करवा चुका है, लेकिन सुनवाई नहीं की जा रही है।

कांकराला में भी ऐसा मामला -

कांकराला गांव निवासी भीमसिंह के गत वर्ष अक्टूम्बर में पण्डित दीनदयाल उपाध्याय विद्युत योजना में घरेलू विद्युत कनेक्शन किया गया। इसके बाद डिस्कॉम जारी दो बिलों की राशि उसने जमा करवाई। बाद में उसे बिल मीटर व घरेल मीटर के नंबर अलग-अलग होने की जानकारी हुई। इसे लेकर उपभोक्ता कल्याणपुर, पचपदरा तक डिस्कॉम कार्यालय के चक्कर काटे। लेकिन बीते नौ माह में डिस्कॉम ने इसका समाधान नहीं किया।

दो बार पहुंचे कनेक्शन करने, मोहल्लेवासियों ने बैरंग लौटाया

डिस्कॉम में लगा रहा हूं चक्कर -

सात माह पहले घर कनेक्शन लिया था । जो बिजली का बिल आ रहा है उसमें मीटर नम्बर 2980397 अंकित हैै, जबकि जो घर के बाहर मीटर लगा है। उसके नम्बर 8201547 है । कई बार में डिस्कॉम को अवगत करवाया, लेकिन समस्या का समाधान नहीं होने से कार्यालय के चक्कर लगाने को मजबूर हूं।

- कानाराम, उपभोक्ता

मीटर और पोल तो मिल गए, कनेक्शन नहीं जोड़ा

समस्या का होगा समाधान-

मामला मेरी जानकारी में नहीं है । गलत मीटर नम्बर से बिल जारी होने की जानकारी पर उपभोक्ता कनिष्ठ अभियन्ता से जांच करवाकर लिखित में कार्यालय में अवगत करवाए। समस्या का समाधान करेंगे।

- हनुमानाराम चौधरी, अधिशासी अभियन्ता सिवाना